Skip to content

ऑनलाइन पर्सनल लोन फ्रॉड से कैसे बचें | online personal loan frauds in india

2
(1)

Online personal loan frauds in india : कोरोना महामारी के बाद डिजिटल भुगतान की काफी ग्रोथ हुई है. हम रोज के कामों में इसका असर देख सकते हैं आजकल सभी सामान खरीदते-बेचते समय ऑनलाइन पेमेंट करने लग गए हैं. हम किराना दुकानों हॉस्पिटल मॉल और अन्य जगह जाते हैं तो पैसे हमेशा ऑनलाइन UPI से करने लग गए हैं.

क्या आप भी बनना चाहते हैं करोड़पति? नए IPO निवेश के बारे में जानकारी के लिए ➤ Whastapp Channel से जुड़ें!

पेमेंट में हम फ़ोनपे और गूगल पे जैसे UPI एप का इस्तेमाल करते हैं. डिजिटलाइजेशन ने लोगों के पैसे उधार लेने के तरीके भी बदल गए हैं. आजकल लोग किसी से उधार लेते हैं तो पैसे सीधे UPI से भेजने को कहते हैं. साथ ही उधार की समस्या को दूर करने के लिए पर्सनल लोन कंपनियों और एप्स की भरमार हो रही है. अब मार्केट में कई पर्सनल लोन एप आ गए हैं जो घर बैठे आपको कुछ घंटों में लोन उपलब्ध करा देते हैं. इसमें सिर्फ आधार कार्ड और पैन कार्ड की आवश्यकता रहती है.

जब सबकुछ डिजिटल हो गया है तो कुछ फ्रॉड भी मार्केट में होने लग गए हैं. ऐसा ही ऑनलाइन पर्सनल लोन में भी हो रहा है. ऐसे में हमें ऑनलाइन पर्सनल लोन में होने वाले फ्रॉड को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए बल्कि उसके बारे में जानकारी प्राप्त करके खुद के साथ फ्रॉड होने बचना चाहिए.

कुछ ऑनलाइन लोन फ्रॉड उदाहरण (Personal loan frauds in india)

  • ऑनलाइन फ्रॉड करने वाले सबसे ज्यादा कॉल, मैसेज और व्हाट्सएप का इस्तेमाल करते हैं और उसके जरिये आपकी जानकारी हासिल करते हैं.
  • ये स्कैमर आपके आधार कार्ड, पैन कार्ड और बैंक अकाउंट से जुड़ी जानकारी हासिल करने की ज्यादा कोशिश करते हैं, जिसके लिए आपको तरह-तरह के झांसे देते हैं.
  • वे आपसे प्रोसेसिंग शुल्क या जीएसटी के लिए लोन से पहले भुगतान करने को कहते हैं. हालाँकि, ये चार्ज लोन पास होने के बाद लिया जाता है.
  • वे आपको अच्छे लोन ऑफर बतायेंगे और आपको बहुत कम समय देंगे यानी ऑफर कुछ घंटो के लिए है ऐसा कुछ. ऐसे में आप ज्यादा सोच-विचार नहीं कर पाएंगे और उनके चंगुल में फंसने की संभावना बढ़ जाती है.

इसे भी पढ़ें : होम लोन टिप्स

ऑनलाइन पर्सनल लोन फ्रॉड से कैसे बचें

डिजिटल पर्सनल लोन फ्रॉड( Online Personal Loan Fraud ) की मुसीबत से खुद को बचाने के लिए, यहां अन्य प्रभावी तरीके दिए गए हैं:

1. संवेदनशील व्यक्तिगत जानकारी साझा ना करें

बैंक अधिकारी कभी भी फोन कॉल, ईमेल या एसएमएस पर संवेदनशील व्यक्तिगत जानकारी या वित्तीय विवरण नहीं मांगते हैं. इसलिए, कभी भी अपने व्यक्तिगत विवरण किसी अज्ञात, तीसरे पक्ष के प्रतिनिधि के साथ साझा न करें.

इसे भी पढ़ें : पर्सनल लोन टिप्स पढ़ने के लिए क्लिक करें

2. केवल सत्यापित ऐप्स का उपयोग करें

ऑनलाइन लोन में बहुत से बैंक और कंपनी हैं जो आपको बैंकिंग और वित्त सेवाएं प्रदान करते हैं. लेकिन यह सलाह दी जाती है कि केवल सत्यापित लोन ऐप्स का उपयोग करें, अन्यथा आप धोखाधड़ी वाले ऑनलाइन फ्रॉड का अगला लक्ष्य बन सकते हैं.

कुछ सत्यापित लोन ऐप्स :-

3. सुरक्षित वेबसाइट उपयोग करें

सुरक्षित वेबसाइटें HTTP: // के बजाय HTTPS: // से शुरू होती हैं. सुनिश्चित करें कि आप जिस वेबसाइट को ब्राउज़ कर रहे हैं वह सुरक्षित है. साथ ही यूआरएल के पास लॉक आइकॉन को जरुर चेक करें, अगर नहीं है तो तुरंत उस वेबसाइट को बंद करें. इस तरह आप ऑनलाइन फ्रॉड से बच सकते हैं. नीचे दिए गये फोटो में आप लॉक आइकॉन देख सकते हैं.

डिजिटल पर्सनल लोन फ्रॉड
HTTPS: // लॉक आइकॉन

4. कपटपूर्ण कॉल, एसएमएस या ईमेल से सावधान रहें

स्कैम करने वाला कॉलर किसी बैंक या वित्तीय संस्थान का कर्मचारी होने का दिखावा कर सकता है और आपसे आपकी व्यक्तिगत जानकारी मांग सकता है. कॉल, एसएमएस या ईमेल पर ऐसी कोई भी जानकारी साझा न करें. अगर आपके सामने ऐसी कोई बात आती है तो तुरंत संबंधित अधिकारियों को इसकी सूचना दें या उस वित्तीय संस्था (बैंक) में जाकर शिकायत करें.

5. सुरक्षित इंटरनेट कनेक्शन का उपयोग करें

हर बार जब आप भुगतान करते हैं या कोई संवेदनशील पर्सनल बैंकिंग जानकारी दर्ज करते हैं, तो ध्यान रखें आप किसी अनजान वाई-फाई से इंटरनेट नहीं चला रहे हैं. किसी भी असुरक्षित सार्वजनिक वाईफाई-कनेक्शन का उपयोग करने से बचें जो साइबर धोखेबाजों तक पहुंच की अनुमति दे सकता है. हमेशा अपने मोबाइल इन्टरनेट या किसी भरोसेमंद वाई-फाई नेटवर्क का इस्तेमाल करें.

आप किसी भी प्रकार के ऑनलाइन फ्रॉड की शिकायत National Cyber Crime Reporting Portal पर सकते हैं.

Online Personal Loan Fraud से बचने के लिए हमेशा सतर्क रहें और लालच से दूर रहे क्योंकि हमारे साथ जो भी डिजिटल फ्रॉड किया जाएगा उसमें लालच की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है. कोई भी अनजान डिजिटल लोन या पेमेंट करने से पहले अपने किसी अनुभवी रिश्तेदार या मित्र से बात करें.

सतर्क रहे. सुरक्षित रहें.

इन्हें भी पढ़ें :

FAQs about online personal loan frauds in india

  1. ऑनलाइन लोन फ्रॉड क्या है?

    आपसे ऑनलाइन लोन देने के बदले पैसे लेना. कई बार कंपनी लोन देने के बाद अनावश्यक चार्ज वसूलती है. कुछ मामलो में लोन ना चुकाने वाले कस्टमर्स को काफी परेशान करती है. उनके रिश्तेदारों को कॉल करती है. कई मामलों में देखने को मिला है कि गाली-गलौच और मारने की धमकी जैसी बाते भी सामने आई हैं.
    हमेशा एक भरोसेमंद एप से ही लोन लें.

  2. मुझे कैसे पता चलेगा कि मैं ऑनलाइन लोन फ्रॉड का शिकार हूं?

    अगर आपको लगता है कि आप ऑनलाइन लोन फ्रॉड के शिकार हो सकते हैं, तो कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए. सबसे पहले, आपको लोन के लिए कभी भी अग्रिम शुल्क का भुगतान नहीं करना चाहिए. दूसरा, आप जिस भी कंपनी या एप से लोन ले रहे हैं उसकी ऑनलाइन जाँच करें या अपने दोस्तों से पूछें. आप यूट्यूब पर भी रिव्यु देख सकते हैं.

  3. ऑनलाइन लोन फ्रॉड के क्या परिणाम हो सकते हैं?

    यदि आप ऑनलाइन लोन लेने की सोच रहे हैं, तो लोन धोखाधड़ी के परिणामों को जानें और उनसे बचें. लोन धोखाधड़ी से न केवल वित्तीय परिणाम हो सकते हैं, बल्कि कानूनी रूप से भी आप फंस सकते हैं. आप लोन देने वाले के झूठे चंगुल में फंस सकते हैं और बेवजह बड़ी पूंजी गंवानी पड़ सकती है.
    कुछ मामलो में वे आपके रिश्तेदारों को कॉल करके लोन की जानकारी और ना चुकाने के बारे में बतायेंगे इससे आपकी छवि का नुकसान होगा.

How good was this post?

Make it better by giving 5 stars

Average rating 2 / 5. Total rating : 1

Telegram

Be the first to rate

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *