छोड़कर सामग्री पर जाएँ

🏆[Top 10] भारत में नए कृषि आधारित व्यवसाय आइडियाज | New Agricultural Business Ideas in India

3
(2)

New Agricultural Business Ideas in India(नए एग्रीकल्चर बिज़नेस आइडियाज इन हिंदी – नए कृषि आधारित व्यवसाय) :- किसी भी अर्थव्यवस्था की व्यापक समृद्धि के लिए वहाँ कृषि का होना अतिमहत्वपूर्ण है। अपना भारत देश कृषि प्रधान देश है. कृषि अपने देश की आर्थिक व्यवस्था की नींव है। कृषि या कृषि व्यवसाय भोजन और कच्चा माल उपलब्ध कराने के अलावा आबादी के एक बड़े हिस्से को रोजगार के अवसर प्रदान करती है। कृषि से जुड़ी बहुत सी व्यावसायिक अवधारणाएं अब सामने आ रही हैं। इनमें से कुछ कृषि व्यवसाय कम निवेश के साथ शुरू किए जा सकते हैं, अन्य को थोड़ी बड़ी पूंजी की आवश्यकता होती है। इस लेख में, हम भारत में उपलब्ध कुछ नए कृषि व्यवसाय के आइडियाज पर चर्चा करेंगे।

आज आपके लिए ऐसे नए एग्रीकल्चर बिज़नेस आइडियाज इन हिंदी लेकर आए है जिन्हें भारत में अभी बहुत कम लोग कर रहे हैं, यानि सिर्फ नाम-मात्र व्यक्ति ही ये नये कृषि व्यवसाय कर रहे हैं. जो खेती से जुड़े बिजनेस या कृषि से जुड़े व्यवसाय में एक नई क्रांति लेकर आए हैं.

1. जैविक खाद का उत्पादन व्यवसाय | Production of organic fertilizers Business in Hindi

जैविक खाद का उत्पादन कृषि आधारित व्यवसाय में से एक है जिसे एक उद्यमी आसानी से शुरू कर सकता है। वर्तमान में वर्मी कम्पोस्टिंग या जैविक खाद का निर्माण या उत्पादन एक घरेलू उद्योग बन गया है। इसके लिए बड़े पूंजी निवेश की आवश्यकता नहीं है और निर्माण प्रक्रिया भी काफी आसान है जिसके लिए किसी खास कोर्स की आवश्यकता नहीं है।

फर्टिलाइज़र के बिना कृषि करना असंभव है, क्योंकि फसल की अच्छी गुणवत्ता और अधिक पैदावार के लिए खाद का बहुत बड़ा योगदान रहता है। पिछले कुछ वर्षों से देखा जा रहा है की हमारे किसान जैविक खेती की तरफ अधिक ध्यान दे रहे हैं।

पालतू पशुओं(गाय-भैंस) के गोबर और मुर्गियों की बीट, जैविक अप्शिष्ट, सब्जियों, फलों और अंडे के छिलके, पेड़ों की सूखी पत्तियों तथा घर में होने वाले अन्य अपशिष्ट से जैविक खाद का निर्माण किया जाता है। यह प्राकृतिक खाद की श्रेणी में आती है, इसके उपयोग से उगाये गये खाद्य पदार्थ उच्च गुणवत्ता वाले और पौष्टिक होते हैं, जिनकी डिमांड बहुत रहती है और ये आपको अच्छा बिजनेस दे सकते हैं.

👉 भारत में किराना दुकान कैसे खोलें?

2. हाइड्रोपोनिक्स कृषि व्यवसाय | Hydroponics Agriculture Business in Hindi

हाइड्रोपोनिक्स एक नई कृषि तकनीक है जो एक प्रकार की बागवानी और हाइड्रोकल्चर का एक मिला जुला रूप है जिसमें जलीय विलायक में खनिज पोषक तत्वों के घोल का उपयोग करके बिना मिट्टी के पौधों को उगाया जाता है।

यह हाइड्रोपोनिक कृषि पानी, बालू या कंकड़ों में की जाती है. एक नियंत्रित वातावरण में बिना किसी मिट्टी के पौधे उगाने की कृषि तकनीक को हाइड्रोपोनिक कृषि कहते हैं. इस नई तकनीक में फसल या पोधें पानी और उसमें मौजूद पोषण स्तर के कारण बढ़ते हैं. इस कृषि को करने वाले बताते हैं कि हाइड्रोपोनिक खेती में हमारी पारंपरिक खेती की अपेक्षा मात्र 10 फीसदी ही पानी की जरूरत पड़ती है. 

इसका चलन निरंतर बढ़ता जा रहा है. हमारे कई भारतीय किसान पारंपरिक कृषि को छोड़कर हाइड्रोपोनिक खेती की तरफ आकर्षित हो रहे हैं. इतना ही नहीं, हाइड्रोपोनिक खेती में हो रहे असीमित मुनाफे ने इन किसानों की जिंदगी को एकदम से बदल कर रख दिया है. झारखंड और राजस्थान आदि कई ऐसे स्टेट हैं, जहां हाइड्रोपोनिक कृषि बड़ी तेजी से बढ़ रही है. 

3. पोल्ट्री फार्म बिजनेस | Poultry Farming in India

वर्तमान में इन्टरनेट के चलते भारतीय लोग अपने स्वास्थ्य को लेकर काफी सतर्क हो गये हैं. अपनी हेल्थ को बेहतर बनाने के लिए अंडे का सेवन काफी मात्रा में किया जाता है. इसी वजह से अंडे के अधिक उत्पादन की आवश्यकता है और इसके लिए मुर्गीपालन फार्म (Poultry Farm) का व्यवसाय चलन बढ़ने लगा है. कुक्कुट पालन(पोल्ट्री फार्म) सबसे बेहतर Village Business Ideas है. क्योंकि ग्रामीण क्षेत्र के व्यवसाय में इसे प्रमुख माना जाता है.

NABARD की रिपोर्ट के अनुसार अंडे के उत्पादन में भारत देश टॉप 5 देशों की लिस्ट में शामिल है. मुर्गी पालन कैसे करें, पोल्ट्री फार्म शेड खर्च कितना लगता है और कुक्कुट पालन का व्यापार शुरू करने के बारे में पूरी जानकारी पढ़ने के लिए क्लिक करें.

4. फलों के रस का उत्पादन करने का व्यवसाय | Production of fruit juice

एक फलों का रस बनाने वाली कंपनी शुरू करना बहुत ही फायदेमंद बिजनेस आईडिया हो सकता है। इस व्यवसाय को करने के लिए बड़े निवेश की जरूरत पड़ती है. इसमें एक बेहतरीन बिजनेस प्लान होना और उसे अच्छी रणनीति के साथ पूरा करना काफी आवश्यक है, जिसमें अधिक सावधानी और अच्छी तैयारी की आवश्यकता होती है. डिब्बाबंद फलों के रस का उपयोग तेजी से बढ़ रहा है, हम सभी ने जरुर इनका आनन्द लिया है. स्लाइस और माजा जैसे ब्रांड इसमें धूम मचा रहे हैं.

इस व्यवसाय का मार्केट काफी बड़ा है और अच्छे प्रोडक्ट की कमी है. फ्रूट जूस व्यवसाय के व्यवसाय में समय, स्वच्छता, स्वाद और फलों की गुणवत्ता का बहुत ध्यान रखना होता है. इस बिजनेस की गर्मियों के मौसम में काफी डिमांड रहती है, वैसे ये हर मौसम में चलते हैं.

👉 टॉप 20 कम लागत वाले बिजनेस

5. कृषि परामर्श केंद्र व्यवसाय | Agriculture consultancy Business in Hindi

ये तो आप जानते ही हैं कि, कृषि सलाहकार(Agricultural consultants) कृषि भूमि का बेहतरीन उपयोग और उसका अच्छे से रखरखाव करने के बारे में हमारा मार्गदर्शन करते हैं। ये कृषि व्यवसाय और तकनीकी के अच्छे ज्ञाता होते हैं, इसमें व्यावसायिक कृषि विशेषज्ञ कृषि भूमि मालिकों या किसानों को वित्तीय समस्याओं और वाणिज्यिक योजना से संबंधित जानकारियां उपलब्ध करवाते हैं, और तकनीकी कृषि विशेषज्ञ, भूमि का सबसे बेहतर उपयोग कैसे किया जा सकता है, के बारे में बताते हैं.

यदि आप खेती में अच्छा अनुभव रखते है और किसी विशिष्ट क्षेत्र के अच्छे ज्ञाता भी हैं तो आप एक कृषि परामर्श सेंटर से जुड़ा बिजनेस शुरू कर सकते हैं। किसानों को बहुत बार कृषि से जुड़ी समस्याएं आती है, और वे उनके लिए अच्छे मार्गदर्शन तलाश करते हैं। इसके लिए आप एक या दो अच्छे कृषि विशेषज्ञ को भी साथ ले सकते हैं.

6. मसाले की प्रोसेसिंग यूनिट | Processing of spice Agriculture Business in India

भारतीय बाजार और अंतरराष्ट्रीय मार्केट में जैविक मसालों की अत्यधिक मांग रहती है। प्रसंस्करण और पैकेजिंग प्रक्रियाएं काफी आसान होती हैं और इसे बहुत कम पैसों में स्टार्ट किया जा सकता है। यह भारत में अधिक मुनाफे वाले बिजनेस में से एक है, क्योंकि ये दैनिक आवश्यकताओं से जुड़ा हुआ है। इसमें बस आपको कुछ मशीनरी की आवश्यकता होगी जैसे: एक डिसइंटीग्रेटर, पैकेजिंग मशीन, मसाला ग्राइंडर, पाउच सीलिंग मशीन, वजन मशीन और अन्य।

7. डेरी फार्मिंग व्यवसाय | Dairy farming Agriculture Business in Hindi

यह भारत का सबसे पॉपुलर व्यवसाय है, जो सबसे अधिक लाभदायक कृषि आधारित व्यावसायों में से एक है. इस व्यवसाय में स्वच्छता और गुणवत्ता का विशेष ध्यान जाता है वरना आप इसमें लंबे समय तक नहीं रुक पाओगे। डेरी फार्म यानि दुग्ध उत्पादन बिजनेस भारत में आसानी से किया जा सकता है क्योंकि भारत में कृषि क्षेत्र अधिक है और इस बिजनेस में आवश्यक चारा आसानी से उपलब्ध हो जाएगा.

डेरी फार्म को आप छोटे स्तर से कम पूंजी के साथ शुरू कर सकते हैं, समय के साथ इसमें आमदनी इन्वेस्ट की जाए तो ये कुछ वर्षों में काफी बड़ा व्यवसाय बन सकता है.

👉 30 सर्वश्रेष्ठ स्मॉल बिजनेस आइडियाज

8. हर्बल औषधीय कृषि व्यवसाय | Herbal medicinal farming Business in India

हर्बल औषधीय कृषि भारत में ही नहीं, पूरी दुनिया भर में पॉपुलर है। जड़ी-बूटियों की मांग मार्केट में अधिक है। यदि आपके पास पर्याप्त स्थान और जड़ी-बूटियों की अच्छी समझ है, तो आप अपने खेत में औषधीय जड़ी-बूटियां उगाना स्टार्ट कर सकते हैं। इस व्यवसाय में आपको कुछ सरकारी डाक्यूमेंट्स की आवश्यकता होगी जो कानूनी प्रक्रिया को पूरा करते हैं.

हर्बल दवाइयां शरीर के लिए घातक नहीं होती है और ये रोगों को जड़ से नष्ट करती है, इसलिए इनकी मांग अधिक रहती है. इनकी मांग के अनुसार आपूर्ति नहीं हो पाती है, आप इस हर्बल मेडिसिन बिजनेस का हिस्सा बनकर लोगों की मदद कर सकते हैं.

9. मधुमक्खी पालन व्यवसाय | Beekeeping Agriculture Business Ideas in Hindi

मधुमक्खियां मोन समुदाय में रहने वाली कीट वर्ग की जंगली प्राणी है इन्हें उनकी आदतों के अनुकूल कृत्रिम ग्रह (हईव) में पाल कर, शहद एवं मोम आदि प्राप्त करने को मधुमक्खी पालन या मौन पालन कहते है । इसे जब बागवानी के साथ किया जाता है तो ये बागवानी का उत्पादन बढ़ा देता है.

भारत में लोग स्वास्थ्य के प्रति काफी जागरूक होते जा रहे हैं, जिससे शहद की मांग दिनों-दिन बढ़ती जा रही है। मधुमक्खी पालन एक आकर्षक व्यवसाय विकल्प बन गया है। मधुमक्खी पालन कृषि आधारित व्यवसाय है जो छोटे और बड़े दोनों स्तर पर शुरू किया जा सकता है. मधु यानि शहद और परागकण का उत्पादन करने के लिए मधुमक्खियों पालन किया जाता है।

10. मछली पालन व्यवसाय | Fish Farming Business in Hindi

मछली पालन को ‘पिसीकल्चर/pisciculture‘ भी कहा जाता है और यह वाणिज्यिक मत्स्य पालन(machhali palan) है। भारत में, मछली पालन कृषि निर्यात और खाद्य सुरक्षा में प्रमुख रूप से योगदान देने वाला एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है। चूंकि भोजन के रूप में मछली की मांग बढ़ रही है, इसके परिणामस्वरूप दुनिया भर में अत्यधिक मछली पकड़ने की वजह से इनकी आबादी में कमी आई है। इससे मछली फार्म या जलीय कृषि की स्थापना हुई है जिसमें मानव निर्मित तालाबों या टैंकों में कृत्रिम रूप से मछली पालन किया जाता है। 

एक्वाकल्चर अब इतना लोकप्रिय हो गया है कि दुनिया में कुल मछली आबादी का 50% से अधिक 2016 में अकेले जलीय कृषि से आया था। विश्व स्तर पर, कुल मछली आपूर्ति का 62% चीन से आता है। (मछली पालन व्यवसाय कैसे शुरू करें)

हमसे Whatsapp पर जुड़ें और स्टेटस पर जानकारी पायेंChat Now
होमपेज पर जाएंClick to HomePage

इन्हें भी पढ़ें :-

FAQs About New Agricultural Business Ideas in India

  1. सबसे अधिक लाभदायक कृषि व्यवसाय कौन सा है?

    दूध के साथ-साथ दुग्ध उत्पादों की मांग हमेशा अधिक रहती है। इसलिए हम कह सकते हैं कि डेयरी व्यवसाय भारत में सबसे अधिक लाभदायक कृषि व्यवसाय है। डेयरी व्यवसाय शुरू करने के लिए आपको अच्छे पूंजी निवेश और डेयरी विशेषज्ञों से कुछ मार्गदर्शन की आवश्यकता होती है।

  2. गांव में कौन सा बिजनेस करें?

    गाँव में कृषि से जुड़े बिजनेस आसानी से किए जा सकते हैं जिसे आप लेख में पढ़ सकते हैं.
    अन्य बिजनेस के तौर पर : किराना स्टोर, दूध का बिजनेस, पशुआहार, अनाज प्रोसेसिंग यूनिट जैसे: दाल बनाना.

  3. व्यावसायिक कृषि किसे कहते हैं?

    व्यापारिक कृषि या व्यवसायिक कृषि, जिसमें फसलों का उत्पादन केवल व्यापारिक उद्देश्य के लिए किया जाता है। इस प्रकार की खेती में बड़ी भूमि, श्रम और मशीनों का उपयोग किया जाता है। एक्वापॉनिक्स , हाइड्रोपोनिक्स कृषि व्यावसायिक कृषि का सबसे बेहतरीन तरीका है क्योंकि इस खेती में हम एक ही कृषि प्रणाली में पौधों और मछलियों को विकसित कर सकते हैं।

  4. कृषि क्षेत्र से जुड़े बेहतरीन बिजनेस कौनसे हैं?

    1. जैविक खाद का उत्पादन व्यवसाय
    2. हाइड्रोपोनिक्स कृषि व्यवसाय
    3. पोल्ट्री फार्म बिजनेस
    4. फलों के रस का उत्पादन
    5. कृषि परामर्श केंद्र व्यवसाय
    6. मसाले की प्रोसेसिंग यूनिट
    7. डेरी फार्मिंग व्यवसाय
    8. हर्बल औषधीय कृषि व्यवसाय
    9. मधुमक्खी पालन व्यवसाय
    10. मछली पालन व्यवसाय

😊 यह पोस्ट कितनी अच्छी थी?

5 Star देकर इसे बेहतर बनाएं ⬇️

Average rating 3 / 5. Total rating : 2

रेटिंग देने वाले पहले व्यक्ति बनें

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.