छोड़कर सामग्री पर जाएँ

किराने की दुकान कैसे शुरू करें | Kirana Business Ideas in Hindi

4.5
(10)

किराना स्टोर(kirana dukan) : कभी सोचा है कि अगर आपके पास के मोहल्ले या गली में किराना स्टोर/किराना दुकान या मिनी ग्रोसरी स्टोर(grocery shop) न हो तो क्या होगा? सोचिये अगर आपको अपनी आवश्यकता का हर छोटा-बड़ा सामान जैसे: चाय-चीनी, साबुन, राशन का सामान के लिए दूर शहर में भीड़-भाड़ वाली जगह जाना पड़े. छोटे ग्रोसरी स्टोर या किराना स्टोर जितना कस्टमर्स के लिए महत्वपूर्ण होता है, उतना ही बिजनेसमैन के लिए भी महत्वपूर्ण है.

हम जब भी कोई बिजनेस शुरू करते है तो इसमें सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण होता है, बिजनेस आईडिया या बिजनेस प्लान. तो आज हम आपको किराने की दुकान बिजनेस आईडिया और किराना स्टोर खोलने की जानकारी की सभी आवश्यक महत्वपूर्ण बातें बतायेंगे जिनके द्वारा आप एक सफल किराणा स्टोर शुरू कर सकते हैं.

Jump to (Topic Shortcut) Hide

किराना स्टोर क्या होता है (parchun ki dukaan)

किराना स्टोर जिसे हम किराना की दुकान या परचून की दुकान या मिनी ग्रोसरी स्टोर आदि नाम से पुकारते हैं. Kirana Store में हमे हमारे दैनिक जीवन में आवश्यक लगभग सभी चीजे मिल जाती है. किराने की दुकान का मालिक ये सामान थोक विक्रेता से होलसेल किराना प्राइस लिस्ट पर खरीदकर उसे अपने कस्टमर्स को कुछ मार्जिन के साथ बेच देता है.

वर्तमान समय में कस्टमर तीन जगह से अपनी जरूरत का सामान खरीदते हैं:-

  1. किराना की दुकान या परचून की दुकान(grocery shop)
  2. सुपर मार्केट या डिपार्टमेंटल स्टोर
  3. ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर (जैसे: Amazon, Flipkart)

वर्तमान समय में कस्टमर्स का रुझान ऑनलाइन किराना का सामान खरीदने की तरफ बढ़ा है, जिसको सर्वाधिक बढ़ावा कोरोना काल से मिला है. वर्तमान में इस ऑनलाइन अवसर का फायदा उठाने के लिए कई बिजनेस आए है, जैसे: बिगबास्केट, ग्रोफर्स आदि बड़ी तेजी से बढ़ रहे हैं. इन सबके बावजूद भी लोग अपने एरिया की नजदीकी किराना स्टोर पर जाना पसंद करते हैं क्योंकि यहाँ जब चाहिए सामान मिल जाता है और आसानी से कितनी भी मात्रा में सामान खरीद सकते हैं. साथ ही कई लोग क्रेडिट सुविधा(उधार में सामान) का फायदा भी लेते हैं.

इसे भी पढ़ें :- भारत में कुत्ता पालन व्यवसाय कैसे करें

अपने एरिया में किराना की दुकान होने के फायदे (grocery shop benefits)

  1. दुकानदार का ग्राहक के साथ एक व्यक्तिगत जुड़ाव हो जाटा है।
  2. किराना स्टोर वो ही सामान ज्यादा रखते है जिसकी डिमांड उनकी एरिया में अधिक होती है, अपने कस्टमर की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए छोटी और बड़ी पैकिंग भी सुलभता प्रदान करती है।
  3. जनरल स्टोर ज़्यादातर कस्टमर के घर के पास ही होते है, जिससे सामान आसानी से, जल्दी और बिना अधिक परेशानी के मिल जाता है।
  4. लोकल किराना स्टोर दुकानदार ज़्यादातर कस्टमर को व्यक्तिगत रूप से जानते हैं या जानने लग जाते हैं तो वो उसे क्रेडिट फैसिलिटी यानी उधार में सामान भी दे देते हैं।
  5. कस्टमर आसानी से प्रॉडक्ट को वापस या बदल सकते है और तुरंत अपने पसंद का सामान पा सकता है।
  6. घर पर बड़े ना होने पर, बच्चे भी सामान ला सकते हैं.

किराना स्टोर व्यापार कौन कर सकता है?

किराने की दुकान खोलने के लिए किसी भी प्रकार के कोर्स या ट्रेनिंग की आवश्यकता नहीं पड़ती है, बस आपको हिसाब-किताब का ज्ञान होना चाहिए जिसके लिए 10वीं तक शिक्षित होना ज्यादा अच्छा रहता है. इसे कोई भी आसानी से अपने एरिया में खोल सकता है, आप पहले किसी भी पुराने दुकानदार से इसका थोड़ा गणित समझले और अपने एरिया में आवश्यक सामान की लिस्ट बनाना शुरू कर दे.

दुकान में क्या क्या सामान रखना चाहिए (परचून की दुकान का सामान की लिस्ट )

घर के सामान की लिस्ट इन हिंदी : एक किराना दुकान (Kirane Ki Dukaan) में वे सभी आवश्यक चीजे होनी चाहिए जो आपके क्षेत्र में प्रचलित है, दैनिक जीवन में काम आने वाली सभी चीजो को अपनी लिस्ट में शामिल करें. हम आपकी आसानी के लिए कुछ किराना सामान की लिस्ट नीचे बता रहे हैं, ये आपके क्षेत्र के अनुसार कम ज्यादा हो सकती है. ऐसा थोक विक्रेता चुने जो आपके सबसे नजदीक हो जिससे आपकी ट्रांसपोर्ट लागत कम होगी, ध्यान रहे, वो आपको उचित रेट में सामान उपलब्ध करवाए और समय पर उपलब्ध करवाए.

परचून की दुकान का सामान की लिस्ट

  • दाल
  • चावल
  • शक्कर
  • चाय
  • आटा
  • घी
  • तेल
  • मसाला
  • नमक
  • नमकीन
  • बिस्कुट
  • नारियल
  • शैम्पू
  • झाडू
  • ड्राई फूड
  • फल और सब्जियाँ
  • कोल्ड ड्रिंक्स
  • ज्यूस
  • दूध
  • पानी
  • कुकीज
  • चिप्स
  • कैंडीज़
  • चॉकलेट
  • पापड़
  • क्रीम
  • साबुन
  • नूडल्स
  • ब्रश
  • सेविंग का सामान
  • सूजी
  • रावा
  • खड़ा मसाला
  • बच्चों के खाने का सामान
  • ब्रेड
  • अंड़ा
  • बेसन
  • बूंदी
  • दही का पैकेट
  • हवाई चप्पल
  • अंडर गारमेंट्स
  • अन्य

इसे भी पढ़ें :- भारत में मछली पालन व्यवसाय कैसे शुरू करें

किराना सामान कहां सस्ता मिलता है (किराने का सामान कहां से खरीदें)

किराना सामान के लिए हर शहर में थोक विक्रेता मौजूद होते है जो दुकानदारों को सामान थोक रेट में उपलब्ध करवाते हैं. आप अपने शहर के थोक विक्रेताओं का स्थान तलाश करे और वहाँ से सामान लेकर आए. आपको कई अन्य स्थान पर भी थोक सामान मिल जाता है जो विक्रेता थोक और खुदरा दोनों तरह से बिक्री करते हैं. जो आपसे केवल थोक विक्रेता की तुलना में अधिक चार्ज कर सकते हैं, अगर उसी रेट में देते है तो आप इनसे भी खरीद सकते हैं. अगर आपका स्टोर काफी बड़ा(दिन में 50 हजार रूपये या अधिक की बिक्री हो) है तो आप नजदीकी बड़े शहर के थोक विक्रेता से भी सम्पर्क कर सकते हैं.

किराना स्टोर खोलने से पहले रिसर्च

किसी भी प्रकार के बिजनेस को शुरू करने से पहले मार्किट की रिसर्च करना सबसे अहम बिंदु होता है, तभी आप अपने बिजनेस में अच्छा मुनाफा कमा सकते हो। परचून की दुकान/किराने की दुकान खोलने से पहले यह ज़रूर देखें जिस एरिया में आप किराना शॉप खोल रहे हैं वहां ग्राहक किराने के लिए परेशान है या नहीं, क्या उस क्षेत्र में आपको एक अच्छी कस्टमर संख्या मिल सकती है।

आप कुछ सामान्य पहलुओं को ध्यान में रखते हुए ये रिसर्च आसानी से कर सकते है, इसके लिए अपने जानकर विक्रेता की सलाह भी काफी मायने रखती है.

किराना दुकान खोलने के लिए कितना पैसा लगेगा

जनरल स्टोर/Kirana Store खोलने के लिए 50,000 से 1,00,000 रुपए तक किराना सामान की लागत आ जाती है जो अधिक भी हो सकती है। आपका इसमें कितना पैसा लगेगा उसकी कोई अधिकतम तय सीमा नहीं हैं। यह आपकी किराना सामान लिस्ट और क्वांटिटी पर निर्भर करता है।

दुकान आप किराये पर ले सकते हैं या आपकी स्वयं की हो तो अधिक बेहतर है. किराना की दुकान का अपने एरिया में प्रचार और उधार की सुविधा देने के चलते खर्चे बढ़ जाते हैं.

सभी आवश्यक खर्चे जोड़ने के बाद एक अच्छा किराणा स्टोर 5 लाख तक इन्वेस्ट चाहता है. किराना स्टोर का इंफ्रास्ट्रक्चर और इंटीरियर की डिजाईन बहुत मायने रखती है, कस्टमर्स को जितना अधिक सामान दिखाई देखा उतना अधिक फायदेमंद रहता है,क्योंकि कस्टमर्स किराना के सामान से बहुत सी चीजें खरीदता है जिनको वो याद नहीं रख पाता है इसलिए उन्हें देखकर वो याद कर सकता है.

किराना स्टोर फर्नीचर लिस्ट (किराने की दुकान)

आपकी किराणे की दुकान में अच्छे मजबूत फर्नीचर की आवश्यकता होती है।

फर्नीचरसंख्याकीमत (रुपयों में,लगभग)
किराने की दुकान का काउंटर15,000
डिस्प्ले रैक210,000
ग्रोसरी रैक315,000
फ्रीज140,000
कुल (लगभग)70,000-80,000
किराना स्टोर फर्नीचर लिस्ट(किराना दुकान प्रोजेक्ट)

इसे भी पढ़ें :- हवाई चप्पल बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें

किराने की दुकान भारत में लाभ मार्जिन

  • किराने की दुकान को अच्छे से चलने में कम से कम 6 महीने तो लग ही जाते हैं। किराना दुकानों में लाभ मार्जिन 2% से 40% तक का होता है, जिसमें सभी आइटम का मार्जिन अलग होता है।
  • अगर आपने 1,00,000 रुपए की लागत के साथ किराना स्टोर शुरू किया है तो आराम से 10,000रुपए से लेकर 30,000 रुपयों तक हर महीने कमा सकते हैं।
  • किराना स्टोर/डिपार्टमेंटल स्टोर में दो तरह के प्रोडक्ट होते है:
  1. लोकल प्रॉडक्ट: प्रॉफ़िट मार्जिन ज्यादा होता है।
  2. ब्रांडेड प्रॉडक्ट: प्रॉफ़िट मार्जिन कम होता है।

ज़्यादा मुनाफे के लिए आप शुरू में कम प्रॉफिट मार्जिन और ब्रांडेड प्रोडक्ट(जिनकी डिमांड है) रखें ताकि आप ज़्यादा लोगों को आकर्षित कर सकें क्योंकि जब तक आप कस्टमर्स को अपना भगवन नहीं मानोगे तब तक आपकी पॉकेट में पैसे नहीं आएंगे। कस्टमर्स को अच्छी सर्विस दो और बदले में अच्छा मुनाफा पाओ. बिजनेस कभी भी एक तरफा नहीं हो सकता है, क्योंकि कस्टमर्स जितना पैसा चुकता करता है उतनी उसे वैल्यू मिलनी ही चाहिए.

जनरल स्टोर के लिए आवश्यक कुछ कानूनी डाक्यूमेंट्स

किराना की दुकान की भी कुछ सामान्य कानूनी प्रक्रियाएं होती हैं जिन्हें आपको पूरा कर लेना चाहिए जिससे किसी भी प्रकार की समस्या का आपको सामना ना करना पड़ें.

किराने की दुकान के लिए FSSAI फूड रजिस्ट्रेशन

FSSAI के नियमों को ध्यान में रखकर पूरा करें और लाइसेंस नंबर जरुर लें। एफ़एसएसएआई की गाइडलाइन को पूरा करना अतिआवश्यक हैं क्योंकि “सुरक्षित आहार स्वस्थ्य का आधार” है। आप FASSAI वेबसाइट पर रजिस्टर करके FSSAI का लाइसेंस ले सकते हैं.

किराने की दुकान के लिए GST टैक्स रजिस्ट्रेशन

आपको अपने दुकान का जीएसटी रजिस्ट्रेशन भी करवाना पड़ेगा क्योंकि आपको पता है हर सामान पर टैक्स तो लगता ही है। आप खुद GST की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं या किसी CA से करवा सकते हैं. जिसका वे 500 से 1000 रूपये तक चार्ज करते हैं और आप स्वयं करो इसे फ्री में कर सकते हो.

इसे भी पढ़ें :- अपना सबसे सर्वश्रेष्ठ चाय कैफे कैसे बनाएं

किराने की दुकान की मार्केटिंग कैसे करें

किसी भी नए बिजनेस को शुरू करने के बाद उसकी मार्केटिंग करना बहुत जरूरी होता हैं क्योंकि अगर आप मार्केटिंग नहीं करेंगे तो आप अपने कस्टमर्स तक अपना सामान नहीं पंहुचा पाएंगे। आपको सही मार्केटिंग के तरीके का चुनाव करना होगा तभी आपका किराने का बिजनेस अच्छा प्रॉफिट कमा सकेगा। नई किराना शॉप को लोगों की नजरों में लाने के लिए कुछ तरीके आजमाने चाहिए जिनसे कम लागत में ज्यादा कस्टमर्स जुड़ सकें.

मार्केटिंग में इन चीजों का जरुर ध्यान रखें:

  • आप कस्टमर आकर्षित करने के लिए अपने कस्टमर्स को सीजनल आइटम्स पर ऑफर और डिस्काउंट प्रदान करें। जैसे: त्योहारों में मिठाई पर और सर्दियों में गजक आदि पर.
  • आप कस्टमर के लिए फ्री होम डिलिवरी और फोन पर ऑर्डर करने की सुविधा भी प्रदान कर सकते हैं। बस इसके लिए आपको एक-दो अतिरिक्त स्टाफ की आवश्यकता पड़ सकती है, लेकिन इससे आपका प्रॉफिट भी बढ़ेगा.
  • दुकान के बार आकर्षक बोर्ड लगाये जिसमें सामान्य अक्षरों में और कम शब्द सीमा में अपने दुकान के प्रोडक्ट्स आय श्रेणी का नाम लिखे.

किराना दुकान का ऑनलाइन प्रचार कैसे करें

गूगल माय बिजनेस – गूगल माय बिजनेस गूगल का एक फ्री टूल हैं जिससे आप अपने किराना शॉप बिजनेस को गूगल शॉप लिस्टिंग में डाल सकते हैं, जो किराना स्टोर की लोकेशन के साथ गूगल माय बिजनेस और गूगल मैप पर जुड़ जाता है। इसका फायदा ये है कि जब भी कोई कस्टमर गूगल पर सर्च करेगा कि आस पास किराना स्टोर कहाँ है (Near Kirana Store) या फिर जो आपके किराना स्टोर को जानता है लेकिन उसे ये नहीं पता की कहाँ है तो वो आपके किराना स्टोर के नाम से सर्च करके आप तक पहुँच सकता है.

हमेशा अपने किराना का यूनिक नाम देने की कोशिश करें और उसकी ही ब्रांडिंग करें जिससे लोगों की नजर आपके बिजनेस पर पड़ें और आपकी अलग पहचान बने.

किराना शॉप का ऑफलाइन प्रचार कैसे करें

होर्डिंग्स – किराने के स्टोर्स को लोग ज्यादातर ऑफलाइन ही देखते है, इसलिए इस बिजनेस के लिए होर्डिंग्स और पेपर मीडिया के माध्यम से प्रचार करना ज्यादा उचित रहता है, अगर आप अपने क्षेत्र में होम डिलीवरी करते हैं तब अपने क्षेत्र के लिए ऑनलाइन भी प्रचार कर सकते हैं.

जब से आप दुकान खोलने की तयारी शुरू करें उसी दिन से अपने दुकान के आगे बोर्ड लगा दे और ओपनिंग सून जैसा कोई मैसेज लिख दे जिससे लोग पहले ही जानने लगे और ओपनिंग बड़े स्तर पर करे और पुरे दिन दुकान सजाए रखे जिससे उस रस्ते पर गुजरने वाले हर व्यक्ति की नजर में आपका बिजनेस आ जाए.

आसपास की कॉलोनियों और गलियों में होर्डिंग लगाये और रासते का संकेत भी जोड़ने की कोशिश करें.

पेम्फ़लेट – अपने किराने के स्टोर का प्रचार पेम्फ़लेट के द्वारा भी कर सकते हैं। इसे या तो आप खुद आने जाने वाले लोगों कोदें सकते हैं या फिर अपने एरिया के लोकल अख़बार वाले को कुछ शुल्क देकर भी हर घर तक पहुंचा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें :- टॉप 20 कम लागत वाले बिजनेस

किराने की दुकान कैसे शुरू करें

उपर लेख में हमने सभी स्टेप्स पढ़ लिए जिन्हें हम इस तरह देख सकते हैं

  • व्यापार के लिए एक बेहतर स्थान का चयन करें
  • बिजनेस की पूरी योजना बनाए, जिसमें क्या क्या करना है शामिल होता है
  • किराना स्टोर के लिए उचित इंटीरियर डिजाईन करवाए
  • किराना की दुकान के लिए एक बेहतर थोक विक्रेता चुने
  • उचित माध्यम से व्यापार की मार्केटिंग और प्रचार करें
  • सामान के आधार पर सभी आइटम्स का उचित मार्जिन तय करें
  • स्टाफ की आवश्यकता हो तो एक सभ्य व्यक्ति का चुनाव करे
  • आवश्यक कानूनी प्रक्रिया पूरी करें
  • दुकान का एक टाइम टेबल तय करे और उसे फॉलो करें
  • सभी सामान का स्टॉक बनाए रखे
हमसे Whatsapp पर जुड़ें और स्टेटस पर जानकारी पायेंChat Now
होमपेज पर जाएंClick to HomePage

इन्हें भी पढ़ें :-

FAQs About Kirana Store Business Ideas in Hindi

  1. किराना स्टोर कौन शुरू कर सकते है?

    किराना स्टोर कोई भी खोल सकता है इसके लिए कोई ट्रेनिंग और कोर्स नहीं चाहिए. बस आपको सामान्य गणित का ज्ञान होना चाहिए , दुकान के हिसाब किताब के लिए।

  2. जनरल स्टोर में कितना मुनाफा है?

    किराना स्टोर में 1 लाख के शुरूआती इन्वेस्ट में कम से कम 10 से 30 हजार महिना आसानी कमा सकते है।

  3. किराना स्टोर का फर्नीचर कितने का आएगा?

    सामान्य स्टोर पर 1 लाख तक खर्च हो जाता है.

  4. किराने की दुकान का काउंटर कितने में आता है?

    किराने स्टोर का काउंटर 5000 से 20000 रूपये तक आता है.

  5. किराना दुकान समान लिस्ट में क्या-क्या शामिल होता है?

    परचून की दुकान का सामान की लिस्ट
    दाल, चावल, शक्कर, चाय, आटा, घी, तेल, मसाला, नमक, नमकीन, बिस्कुट, नारियल, शैम्पू, ड्राई फ्रूट्स, फल और सब्जियाँ, कोल्ड ड्रिंक्स, ज्यूस, दूध, पानी, कुकीज, चिप्स, कैंडीज़, चॉकलेट, पापड़, क्रीम, साबुन, ब्रश, सेविंग का सामान, सूजी, रावा, खड़ा मसाला, बच्चों के खाने का सामान, ब्रेड, अंड़ा, बेसन, बूंदी, दही का पैकेट, हवाई चप्पल, अंडर गारमेंट्स, झाडू, नूडल्स, अन्य

  6. किराना दुकान खोलने के लिए कितना पैसा लगेगा?

    आप कम से कम 20 से 50 हजार का सामान लाकर एक छोटी सी दुकान से किराना बिजनेस की शुरूआत कर सकते है। और यदि आप एक बड़ा स्टोर खोलते है तो आपको 1 से 5 लाख के बीच का सामान अपने किराना स्टोर में रख सकते है। यदि आप एक सामान्य किराने की दुकान खोलते है तो आपको कम से कम 50,000 से 1 लाख रुपए तक क सामान रखना होगा। साथ ही अन्य खर्चे भी ध्यान में रखें जैसे फर्नीचर, प्रचार, उपकरण और अन्य.

  7. परचून की दुकान का क्या अर्थ है?

    किराने की दुकान या किराना स्टोर, जिसपर हमारी दैनिक जीवन की आवश्यक चीजे मिलती है, जैसे रसोई में पकाने का सारा सामान किराने में आता है, नहाने के आइटम्स और अन्य.

  8. अच्छी दुकानदारी कैसे कर सकते हैं?

    यह 10 बाते जिनका ध्यान रखकर आपक एक अच्छे दुकानदार बन सकते हैं-
    1. आने वाले कस्टमर्स को उचित प्रेम दे
    2. अपने प्रचार में उचित मध्यम काम में ले और आकर्षक बनाए
    3. ग्राहक की जरूरतों का ध्यान रखें, उन्हें उनकी जरूरत का हर सामान उचित रेट पर उपलब्ध करवाएं
    4. कस्टमर्स के समय-समय पर ऑफर्स लेकर आए. उत्सवों और मौसम आधारित आइटम्स पर छूट
    5. दुकान पर किसी भी कस्टमर को परेशानी नहीं हो, ज्यादा इंतजार ना करवाए
    6. सबसे जुड़ाव रखें और हर बार आपकी दूकान पर आने ग्राहकों को नाम से आदरपूर्वक पुकारें जिससे उन्हें स्पेशल फील होगा
    7. शॉप में साफ-सफाई का ध्यान रखें और सामान की अच्छे ढंग से लगाए
    8. पेमेंट के सभी विकल्प उन्हें प्रदान करें और उधार सुविधा भी देने की कोशिश करें
    9. नए आइटम्स को दुकान में आगे लगाए
    10. ईमानदारी के साथ बिजनेस करें और ग्राहकों के साथ शिष्टाचार बनाए रखें

  9. किराना दुकान कैसे खोलें?

    किराने की दुकान खोलने के लिए निम्न स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं
    1. व्यापार के लिए एक बेहतर स्थान का चयन करें
    2. बिजनेस की पूरी योजना बनाए, जिसमें क्या क्या करना है शामिल होता है
    3. किराना स्टोर के लिए उचित इंटीरियर डिजाईन करवाए
    4. किराना की दुकान के लिए एक बेहतर थोक विक्रेता चुने
    5. उचित माध्यम से व्यापार की मार्केटिंग और प्रचार करें
    6. सामान के आधार पर सभी आइटम्स का उचित मार्जिन तय करें
    7. स्टाफ की आवश्यकता हो तो एक सभ्य व्यक्ति का चुनाव करे
    8. आवश्यक कानूनी प्रक्रिया पूरी करें
    9. दुकान का एक टाइम टेबल तय करे और उसे फॉलो करें
    10. सभी सामान का स्टॉक बनाए रखे

😊 यह पोस्ट कितनी अच्छी थी?

5 Star देकर इसे बेहतर बनाएं ⬇️

Average rating 4.5 / 5. Total rating : 10

रेटिंग देने वाले पहले व्यक्ति बनें

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

“किराने की दुकान कैसे शुरू करें | Kirana Business Ideas in Hindi” पर 2 विचार

  1. आपके द्वारा दी गई जानकारी बहुत ही अच्छी और सरल भाषा मे है जिसको पढ़ने में किसी भी प्रकार की दिक्कत नही आयेगी ।
    ऐसी ही जानकारी ही समय समय पर देते रहें।
    धन्यवाद

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.