Skip to content

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन कैसे किया किया जाता है? | Udyog Aadhar Registration in Hindi

1
(1)

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन | उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन फॉर्म | udyog aadhar kaise banaye | udyog aadhar certificate | aadhar udyog kya hai | उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट डाउनलोड | उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन स्टेटस | udyam aadhar registration status | लघु उद्योग का रजिस्ट्रेशन कैसे करे | udyog aadhar new registration | udyog aadhar registration fees

क्या आप भी बनना चाहते हैं करोड़पति? नए IPO निवेश के बारे में जानकारी के लिए ➤ Whastapp Channel से जुड़ें!

हमारी भारत सरकार ने सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग के लिए उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन(udyog aadhar registration) की शुरू कर रखा है. इसके लिए सरकार ने उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन पोर्टल लांच कर रखा है, जिसके द्वारा आप आसानी से अपने उद्योग का पंजीकरण कर सकते हैं और इस स्कीम का फायदा ले सकते हैं. उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन free में कर सकते हैं.

आज हम इस लेख में आपको बतायेंगे, उद्योग आधार फ्री रजिस्ट्रेशन करने की पूरी प्रक्रिया और udyam आधार रजिस्ट्रेशन के लाभ के बारे में.

Jump to (Topic Shortcut)

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन क्या है? (Udyog Aadhar registration kya hai)

भारत देश में ऐसे बहुत से लोग है जो अपना बिजनेस शुरू करना चाहते है, लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण वे लोग अपना बिजनेस शुरू नहीं कर पाते हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए भारतीय सरकार ने छोटे, बड़े और माध्यम आकार के व्यापार के लिए उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन प्रोसेस ऑनलाइन मोड में शुरू कर रखी है. इस वेबसाइट के द्वार आप उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरकर ऑनलाइन ही पंजीकरण कर सकते हैं. इसके द्वारा सरकार लोगों को अपना बिजनेस शुरू करने के लिए लोन की सुविधा भी उपलब्ध करवाती है.

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन का मुख्य उद्देश्य क्या है? (Importance of Udyog Aadhar registration in hindi)

  • भारत देश में किसी भी तरह के उद्योग की शुरुआत करने से पहले बिजनेस द्वारा उद्योग प्रमाण पत्र लेना अनिवार्य होता है. इसे बनवाने में उद्यमी को बहुत सी समस्याओं से गुजरना पड़ता था. इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमारी केंद्र सरकार ने ऑनलाइन उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू की है.
  • कोरोना काल में बहुत से लघु और सूक्ष्म उद्योगों में विकास हुआ है जिसे मद्देनजर नजर रखते हुए सरकार ने इस योजना का शुभारंभ किया है.
  • वर्तमान समय में पुरुष ही नहीं, महिलाएँ भी लघु एवं छोटे उद्योगों में रूचि ले रही है, इसीलिए केंद्र सरकार ने इन सबकी सुविधाओं को भी ध्यान में रखा और ऑनलाइन आधार उद्योग रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया की शुरुआत की.
  • पहले जब ऑफलाइन उद्योग प्रमाण पत्र बनवाते थे तो वकील एवं अन्य अधिकारीयों द्वारा उद्यमी से अनावश्यक शुल्क वसूल लिया जाता था. लेकिन इस योजना को ऑनलाइन करने के बाद, अब इस तरह की समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ेगा.
  • इसके अलावा इस योजना के जरिए डिजिटल इंडिया को भी बढ़ावा मिलेगा और देश के हर व्यक्ति का योगदान इसमें रहेगा.
  • उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को ऑनलाइन करने से भ्रष्टाचार और काला बाजारी जैसे अपराधों में भी कमी नजर आएगी.
  • देश का हर एक नागरिक सरलता और आसानी से अपना आधार उद्योग रजिस्ट्रेशन कर पाएगा, जिसमें अमीर और गरीब सब समान रहेंगे.
  • इस सर्विस को ऑनलाइन शुरू करने का मुख्य उद्देश्य अपने भारत देश के प्रत्येक हिस्से के हर छोटे, बड़े और मध्यम व्यापारियों को आत्मनिर्भर बनाना है.

इन्हें भी पढ़े :-

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन के लिए आवश्यक दस्तावेज (Documents required for Udyog Aadhar registration in Hindi)

  • पैन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट फ़ोटोज़
  • बैंक डिटेल्स
  • एंटरप्राइज दस्तावेज
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति का विवरण

एमएसएमई रजिस्ट्रेशन क्या है? (MSME Registration kya hai)

एमएसएमई फुल फॉर्म (MSME Full Form) :- Ministry of Micro, Small & Medium Enterprises

एमएसएमई वर्गीकरण :-

एम(M)- माइक्रो एंटरप्राइज :- वह उद्योग जिनका सालाना टर्नओवर 5 करोड़ या उससे कम होता है. वह उद्यम सूक्ष्म श्रेणी के अंतर्गत आता है.

एस(S)- स्मॉल एंटरप्राइज :- वह उद्योग जिसका टर्नओवर 10 करोड़ या उससे कम हो वह उद्यम लघु श्रेणी में आता हैं.

एम (M)- मीडियम एंटरप्राइज :- जिन उद्योग का टर्नओवर 50 करोड़ यह उसे कम होता है, उस उद्यम को मध्यम श्रेणी में रखा गया है.

इ(E)-एंटरप्राइज :- नई योजना, व्‍यापार आदि

उद्योग आधार पंजीकरण कैसे करें (Udyog Aadhar registration kaise kare)

  • आधार उद्योग रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको सर्वप्रथम ➯ udyog aadhar registration की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना है. इसके बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस वाला पेज खुल जाता है.
  • पहले बॉक्स में आप अपना आधार नंबर लिखें और दूसरे बॉक्स में अपना पूरा नाम लिखे जो आधार कार्ड में है.
  • इसके बाद आपको वैलिडेट & जेनरेट ओटीपी पर क्लिक करना है.
  • क्लिक करने के बाद आपके आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर पर एक OTP प्राप्त होगा, जिसे ओपन होने वाले पॉपअप में टाइप कर वेरीफाई करें, अगर आधार से मोबाइल लिंक नहीं है तो पहले आपको नजदीकी आधार सेंटर पर जाकर लिंक करवाना होगा,लिंक होगा तभी ओटीपी प्राप्त होगा.
  • इसके बाद आपके सामने सम्पूर्ण फॉर्म ओपन हो जाएगा. इस फॉर्म में आपको ईमेल पता, उद्योग का पता, उद्योग का नाम और उद्योग खोलने का समय जैसी सारी जानकारी भरनी है. सभी जानकारियां भर देने के बाद आप ऐड एक्टिविटी पर क्लिक कर दें और अंत में सबमिट बटन पर क्लिक करें.
  • इसके बाद आपके सामने एक पेज और ओपन होगा जिस पर आपको वन टाइम पासवर्ड डालना है. पासवर्ड डालने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक नया ओटीपी प्राप्त होगा. उस ओटीपी को दिखाएं गये उचित बॉक्स में टाइप करें और नीचे दिए गए कैप्चा कोड को सही भरें. इसके बाद फाइनल सबमिट पर क्लिक कर दें.
  • इसके बाद आपके सामने एक और छोटा सा पॉपअप ओपन होगा जिस पर UAM नंबर दिखेगा और आखरी में आप ओके बटन पर क्लिक कर दें.
  • इस पूरी प्रक्रिया को सही से करने के बाद आपका उद्योग सर्टिफिकेट तैयार हो जाएगा और अब आप इस सर्टिफिकेट को प्रिंट या डाउनलोड कर सकते हैं.
  • ध्यान रहे, जिन उद्यमी ने 30 जून 2020 से पहले ही अपना आधार उद्योग रजिस्ट्रेशन करवा लिया था, उनका रजिस्ट्रेशन केवल 31 मार्च 2021 तक ही मान्य था. अब उन्हें फिर से रजिस्ट्रेशन अपडेट करना होगा.

उद्योग आधार को अपडेट कैसे करें? (Udyog Aadhar update kaise kare)

  • इसके लिए आपको सबसे पहले लघु, सूक्ष्म और मध्यम व्यापार की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा
  • फिर आपके सामने होम पेज ओपन होगा. जिसमे आपको अपडेट डिटेल्स की बटन पर क्लिक करें.
  • अब आपके सामने उद्योग आधार लॉग इन पेज ओपन होगा जिसमें आपको अपना उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन की संख्या और मोबाइल नंबर डालना होगा.
  • फिर वेलिडेट & जेनरेट ओटीपी पर क्लिक करे और अब आपके पास एक ओटीपी आएगा.
  • इस पूरी प्रक्रिया के बाद आपका उद्योग आधार खुल जाएगा.
  • अब अपनी डिटेल्स अपडेट करें.

उद्योग आधार पंजीकरण के प्रकार (Types of Udyog Aadhar Registration in Hindi)

उद्योग आधार registration के अंतर्गत सभी, चाहे वो छोटे उद्योग हो या फिर बड़े हर कोई पंजीकृत करा सकते हैं. सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के तहत निम्न प्रकार के बिजनेस इस योजना से जुड़कर लाभ उठा सकते हैं.

  • एकल स्वामित्व
  • सहकारी
  • भागीदारी
  • पब्लिक लिमिटेड कंपनी
  • प्राइवेट लिमिटेड कंपनी
  • सीमित दायित्व भागीदारी
  • स्वयं सहायता समूह

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए आवश्यक पात्रता (Eligibility for Udyog Aadhar registration in Hindi)

  • आधार उद्योग रजिस्ट्रेशन करवाने हेतु आपका सबसे पहले भारतीय नागरिक होना अतिआवश्यक है.
  • ग्रामीण और शहरी दोनों प्रकार के उद्यमी या बिजनेस UDYAM Registration Form के पात्र हैं.
  • महिला और पुरुष दोनों उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन फ्री योजना का लाभ उठा सकते हैं.
  • बैंक में खाता
  • देश के किसी भी राज्य से इस योजना में जुड़कर लाभ ले सकते हैं.
  • आधार कार्ड

एनआईसी डाउनलोड कैसे करें?

  • इसके लिए आप MSME की आधिकारिक वेबसाइट पर जाए, जिसका लिंक उपर दिया गया है.
  • होमपेज पर उपलब्ध एनआईसी कोड बटन पर क्लिक करें.
  • अब आपके सामने एनआईसी पीडीएफ की एक फाइल ओपन होगी.
  • फिर आप डाउनलोड बटन पर क्लिक कर इसे डाउनलोड करले.

UAM सर्टिफिकेट प्रिंट कैसे करें

  • इसके लिए आप सबसे पहले MSME के आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • अब आप इस होम पेज पर प्रिंट और वेरीफाई के ऑप्शन पर क्लिक कर दें.
  • अब आप प्रिंट UAM सर्टिफिकेट के विकल्प पर क्लिक करें.
  • अब आपके पास एक नया पेज ओपन हो जाएगा जिसमें आपको अपना यूएएम नंबर और मोबाइल नंबर टाइप करने है और सबमिट कर देना है.
  • अब आपके स्क्रीन पर UAM सर्टिफिकेट खुल जाएगा.
  • अब आप इसे प्रिंट या डाउनलोड कर सकते हैं.

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन के लाभ क्या है? (Benefits of Udyog Aadhar registration in Hindi)

  • आधार उद्योग रजिस्ट्रेशन होने के बाद प्रत्यक्ष टैक्स की छूट में मदद मिल सकती है.
  • उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद कम ब्याज दर का फायदा उठा सकते हैं.
  • इसके अलावा यह बिना मोर्टाज या सिक्योरिटी के बैंक से लोन लेने में मदद करता है.
  • आईएसओ प्रमाणित भुगतान में आसानी होगी.
  • बिजली के बिल में भी अधिक लाभ मिल सकता है.
  • उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद आपको पेटेंट रजिस्ट्रेशन में 50% सब्सिडी उपलब्ध हो जाएगी.
  • साथ ही आप अनुमोदन, License और अन्य registration का लाभ आसानी से उठा सकते हैं.
  • प्रोडक्शन सेक्टर और मैन्युफैक्चरिंग की पॉलिसी उपलब्ध होती है.
  • व्यवसाय के लिए बैंक अकाउंट का आवेदन करने में आसानी हो जाती है, क्योंकि ये बिजनेस का ऑफिसियल डाक्यूमेंट्स बन जाता है.
  • BarCode Registration सब्सिडी का फायदा मिल सकता है.
  • उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन के पश्चात् प्रोत्साहन योजना, 1993 के पैकेज योजना के जरिए लाभ में मदद मिलती है.
  • इसके अलावा MSME Registration होने पर आपको एनएसआईसी प्रदर्शन और क्रेडिट रेटिंग पर सब्सिडी की सुविधा उपलब्ध होती है.

आधार उद्योग पंजीकरण में परेशानी आए तो क्या करें?

यदि आपको आधार उद्योग पंजीकरण करवाने में किसी भी तरह की कोई समस्या आ रही है तो इसके लिए सरकार ने जिला स्तर और क्षेत्रीय स्तर पर सिंगल विंडो सिस्टम की सुविधा उपलब्ध करवा रखी है. जिसमें जिला स्तर पर व्यापारियों की सहायता के लिए जिला उद्योग केंद्र काम करता है. सरकार ने देशभर में इस तरह के कई सिंगल विंडो सिस्टम की सुविधा उपलब्ध करवा रखी है, जिससे आप अपना उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं.

यदि आपका अभी तक किसी करणवश उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन नहीं हुआ है तो इसके लिए आप सिंगल विंडो सिस्टम से मदद ले सकते हैं. इसके लिए आपको अपने आवश्यक डाक्यूमेंट्स ले जाने होंगे, उनके आधार पर सिंगल विंडो सिस्टम आपको उद्योग आधार संख्या देने में सहायता करेगा.

होमपेज पर जाएंClick to HomePage

इन्हें भी पढ़ें:-

FAQs About UDYAM Registration Form in Hindi

  1. उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन कौन कर सकता है?

    एक व्यक्ति कंपनी, स्वामित्व, साझेदारी फर्म, निर्माता, लिमिटेड कंपनी, प्राइवेट लिमिटेड कंपनी, सीमित देयता भागीदारी फर्म, सहकारी समितियां, व्यक्तियों के किसी भी संघ, खुदरा विक्रेताओं, हिंदू अविभाजित परिवार या किसी अन्य सहित हर प्रकार की व्यावसायिक इकाई उपक्रम .

  2. मैं उद्योग आधार पंजीकरण के लिए कैसे आवेदन कर सकता हूं?

    1. उद्योग आधार ऑनलाइन पंजीकरण के लिए MSME की वेबसाइट पर जाए
    2. न्यू रजिस्ट्रेशन के पेज पर जाकर व्यक्तिगत आधार संख्या और उद्यमी का नाम दर्ज करें
    3. जेनरेट ओटीपी पर क्लिक कर , आधार का सत्यापन करें
    4. उद्योग आधार फॉर्म में अपने उद्यम का सम्पूर्ण विवरण भरें
    5. उद्योग आधार फॉर्म सबमिट करें, आपका उद्योग आधार तैयार है.
    अधिक जानने के लिए लेख kaiseindia.in पर लेख पढ़े.

  3. उद्योग आधार और उद्यम रजिस्ट्रेशन में क्या अंतर है?

    उद्यम रजिस्ट्रेशन एमएसएमई के तहत पंजीकरण के लिए उद्योग आधार पंजीकरण की पुरानी प्रक्रिया है. उद्योग आधार एक पेपरलेस प्रक्रिया है.

  4. मैं अपना उद्योग आधार कार्ड पंजीकरण प्रमाणपत्र कैसे प्रिंट कर सकता हूं?

    प्रिंट उद्यम पंजीकरण के लिए निर्देश
    MSME की ऑफिसियल वेबसाइट पर प्रिंट और वेरीफाई का ऑप्शन चुने और उसमे प्रिंट उद्यम सर्टिफिकेट पर करें
    एप्लिकेशन में भरे गए मोबाइल नंबर और उद्यम रजिस्ट्रेशन नंबर दर्ज करें. ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) के लिए कोई एक विकल्प चुनें. ‘Validate & Generate OTP’ बटन पर क्लिक करने के बाद आपको Selected Option पर OTP प्राप्त होगा. OTP दर्ज करें और ‘Validate OTP & Print’ बटन पर क्लिक करें.

  5. क्या उद्यम पंजीकरण के लिए जीएसटी अनिवार्य है?

    MSME की ऑनलाइन प्रणाली पूरी तरह से आयकर और जीएसटीआईएन प्रणाली के साथ एकीकृत होगी. 01.04.2020 से पैन और जीएसटी नंबर होना अनिवार्य है.

  6. उद्योग आधार कार्ड के लिए पंजीकरण शुल्क क्या है?

    उद्यम पंजीकरण दाखिल करने के लिए कोई शुल्क नहीं होता है. उद्यम पंजीकरण के लिए आधार संख्या की आवश्यकता होगी, जिसमें मोबाइल नंबर होने अनिवार्य हैं.

  7. उद्योग आधार के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या हैं?

    उद्योग आधार नए पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज
    1. आधार कार्ड, मोबाइल नंबर लिंक होने चाहिए.
    2. उद्यमी/मालिक का नाम.
    3. बैंक विवरण.
    4. व्यवसाय के बारे में सम्पूर्ण जानकारी पता होनी चाहिए

How good was this post?

Make it better by giving 5 stars

Average rating 1 / 5. Total rating : 1

Be the first to rate

Telegram

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

2 thoughts on “उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन कैसे किया किया जाता है? | Udyog Aadhar Registration in Hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *