Skip to content

भारत में अधिकांश स्टार्टअप बिजनेस फैल क्यों होते हैं? | Why are many startups failing in India

4.7
(3)

Why startups fail in India : सफलता और असफलता के बीच थोड़ा ही फासला होता है, दोनों ही मेहनत करने वालो को मिलती है. बस कुछ गलतियों और नादानियों के चलते ये फर्क रह जाते हैं. एक सफल व्यक्ति को सब जानने लगते हैं लेकिन असफलता पाने वाले व्यक्ति को कोई नहीं समझ पाता है. हालांकि दोनों ने अपने स्तर पर मेहनत भी की होती है लेकिन कुछ फैक्टर्स की वजह से एक असफलता की तरफ चला जाता है.

क्या आप भी बनना चाहते हैं करोड़पति? नए IPO निवेश के बारे में जानकारी के लिए ➤ Whastapp Channel से जुड़ें!

स्टार्टअप बिजनेस में भी ऐसी बहुत सी कहानियां हैं जो हमारे सामने आने से पहले ही असफल हो जाती हैं. बहुत से लोग किसी को देखकर स्टार्टअप शुरू तो कर लेते हैं लेकिन उस बिजनेस की समझ ना होने के कारण, बिना किसी बिजनेस रिसर्च के शुरू करने के कारण असफल हो जाते हैं. अगर हम भारत में देखें तो केवल 10 प्रतिशत स्टार्टअप ही सफल होते हैं. ऐसे में बहुत से लोग सोचते हैं कि आखिर ये स्टार्टअप बिजनेस फैल क्यों होते हैं.

दुनिया की टॉप बिजनेस यूनिवर्सिटी के सर्वे के अनुसार इंडियन स्टार्टअप के फैल होने का सबसे बड़ा कारण हैं, इन्नोवेटिव आइडिया की कमी. एक बेहतर स्टार्टअप आइडिया ना होने के कारण 90% स्टार्टअप की शुरूआती 5 साल में ही कमर टूट जाती है और धाराशायी हो जाते हैं.

Why startups fail in India

दोस्तों, आज हम आपको कुछ ऐसे कारण बताएंगे जिनके कारण इंडिया स्टार्टअप बिज़नेस जल्दी ही दम तोड़ देते हैं.

1. टीम में अच्छा तालमेल न होना

कोई भी स्टार्टअप बिजनेस तभी सफल होता है, जब उसमें काम करने वाली पूरी टीम के बीच अच्छा व्यवहार हो, और आपसी सामंजस्य भी बेहतर हो. अगर टीम में आपसी तालमेल गड़बड़ा जाता है तो ये स्टार्टअप बिजनेस को फैल कर सकता है. अगर टीम मेंबर्स में ज्यादा ही नोकझोंक होने लगे तो अच्छे सेअच्छे स्टार्टअप का गिरना पका है.

अक्सर देखा जाता है कि नए स्टार्टअप बिजनेस में आपसी साजिश, रंजिश और राजनीती जैसी कई चीजे प्रभावित करती है. ये बिजनेस के ग्रोथ में काफी अड़चन लेकर आती हैं. आप अपनी टीम को एकजुट रखने के लिए हमेशा प्रयत्न करते रहें और उन्हें एकसाथ रहने के लिए प्रेरित करें. उन्हें कुछ सामूहिक कार्य देकर टीम की ताकत समझा सकते हैं. अगर आपकी टीम मजबूत है तो आप अपने स्टार्टअप बिजनेस में सफलता हासिल करोगे.

2. स्टार्टअप बिजनेस की जगह बदलते रहना

अगर आप अपने स्टार्टअप बिजनेस का स्थान बार-बार बदलते हैं तो ये आपके स्टार्टअप के फैल होने मुख्य कारण हैं. हम जल्दबाजी में अपना स्टार्टअप बिजनेस बिना सोचे समझें खिन भी शुरू कर देते हैं. आपके पास एक बेहतर बिजनेस प्लान न होने के कारण ऐसी गलतियाँ हो जाती हैं. फिर आपको अपने बिजनेस का स्थान बदलना पड़ता है जिसका नुकसान आपके स्टार्टअप को उठाना पड़ता है. अगर ये बार बार होता है तो आपके स्टार्टअप बिजनेस का फैल होन तय हो जाता है’.

इस समस्या से बचने के लिए आपको अपने बिजनेस स्टार्टअप के लिए मार्केट रिसर्च करने की आवश्यकता है. एक अच्छे बिजनेस स्थान का चुनाव ही आपके स्टार्टअप बिजनेस कोअच्छी ग्रोथ दिला सकता है. अपने बिजनेस स्टार्टअप के लिए हमेशा कुछ न कुछ नया सीखते रहें और अपनी टीम के साथ जुड़ें रहें. आप अपनी टीम के बॉस न बनकर एक लीडर की तरह रहें और उन्हें गाइड करें.

3. क्वालिटी पर ध्यान ना देना

स्टार्टअप आइडिया कितना ही अच्छा क्यों न हो, अगर आप प्रोडक्ट या सर्विस क्वालिटी पर ध्यान नहीं देते हैं तो ये कारण आपके स्टार्टअप बिजनेस को कभी उठने नहीं देगा. आजकल सबको हर चीज बेहतरीन चाहिए, क्वालिटी के साथ कोई भी समझौता नहीं करता है. आप खुद मार्केट जाकर कभी खराब क्वालिटी का प्रोडक्ट लेकर आते हैं क्या, ऐसे ही सभी लोग होते हैं.

इंडियन लोगों को कम से कम कीमत में अच्छी से अच्छी क्वालिटी चाहिए, अगर आप कस्टमर को खुश कर देंगे तो फिर आपके स्टार्टअप को कोई रोकने वाला नहीं है. हमेशा अपने कस्टमर को अहमियत दें, क्योंकि वो ही आपके बिजनेस को सफल या असफल बनाता है, जिस स्टार्टअप बिजनेस ने कस्टमर के चेहरे पर मुस्कान लाने में कामयाबी हासिल कर ली, उस बिजनेस बहुत कम समय में सफल होना तय है.

4. सही स्ट्रेटेजी  बनाना

हम अपने नये स्टार्टअप बिजनेस के लिए अच्छी स्ट्रेटेजी बनाने में कामयाब नहीं हो पाते हैं, ऐसे में हमारे अच्छे से अच्छे स्टार्टअप आइडिया का फैल होना तय हो जाता है. किसी भी स्टार्टअप बिजनेस को नई ऊंचाईयों पर ले जाने के लिए सही प्लानिंग की जरूरत होती है. आपकी मजबूत और सही स्ट्रेटेजी होनी चाहिए और उसे अपनाने के समय में भी कभी देर नहीं करनी चाहिए. अगर आप देरी करते हैं और गैप रह जाताहै तो ये स्टार्टअप के लिए नुकसानदायक रहेगा. जब तक टीम मेंबर्स को समय समय पर काम नहीं मिलेगा और उन्हें नहीं पता रहेगा की आगे क्या करना है तो उस स्थिति में बिजनेस का पीछे रहना तय हो जाता है. अगर आप अपनी टीम से 100% चाहते हैं तो सही स्ट्रेटेजी बनाने पर फोकस करें.

5. जल्दी प्रोफिट कमाने के चक्कर में पड़ना

आजकल सभी को जल्दी से जल्दी पैसा चाहिए, किसी को भी इंतजार करना बिल्कुल पसंद नहीं है. ऐसे में लोग बिना किसी बिजनेस प्लान और स्ट्रेटेजी के अपना स्टार्टअप शुरू कर देते हैं. फिर शुरुआत में ही लाखों रूपये कमाने के सपने लेने लगते हैं. लेकिन हकीकत में ऐसा होना मुश्किल है, ज्यादातर बिजनेस तो ऐसे ही फैल हो जाते हैं. किसी बिजनेस की होड़ में बिना किसी पूर्व प्लानिंग के कोई भी प्रोडक्ट मार्केट में लेकर आ जाते हैं और फिर नुकसान उठाते हैं. जब ज्यादा नुकसान होजाता है तो उन्हें अपना स्टार्टअप बिजनेस बंद करना पड़ता है.

किसी भी स्टार्टअप आइडिया में लोग उसकी अच्छी बातें ही देखते हैं और उसमें आने वाली मुसीबतों को नहीं देख पाते हैं. ऐसे में बहुत सी कमियां भी छुपकर रह जाती है. जब वे बिजनेस शुरू करते हैं तो उन्हें समझ नहीं आता है कि इन समस्याओं से कैसे निपटे और फिर उनका स्टार्टअप निपट लेता है. आप हमेशा स्टार्टअप शुरू करने से पहले पूरी प्लानिंग कीजिए, कम से कम आपके पास अगले 3 से 5 साल की स्ट्रेटेजी होनी चाहिए. जिससे आप अपने स्टार्टअप को अच्छे स्तर पर ले जा सको.

आज का ये लेख आपको कैसा लगा, हमें कमेंट कर जरूर बताएं. साथ ही निचे दिए रेटिंग सेक्शन में जाकर उचित रेटिंग भी दें. आपकी राय हमारे लिए आवश्यक हैं. हम हमेशा ऐसे ही टॉपिक पर चर्चा करते रहते हैं.

How good was this post?

Make it better by giving 5 stars

Average rating 4.7 / 5. Total rating : 3

Be the first to rate

Telegram

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

2 thoughts on “भारत में अधिकांश स्टार्टअप बिजनेस फैल क्यों होते हैं? | Why are many startups failing in India”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *