Skip to content

ITR Filing 2024-25: मिनटों में ऑनलाइन भरें ITR-1 ‘सहज’ फॉर्म, अभी जानें पूरी प्रॉसेस

5
(1)

ITR Filing 2024-25 ऑनलाइन भरें : Assessment year 2024-25 के लिए आईटीआर भरने की प्रक्रिया अभी जारी है. सैलरी श्रेणी या आम आदमी के लिए आयकर रिटर्न फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 31 जुलाई है. जो बिजनेस ऑडिट के साथ ITR भरने वाले हैं, उनके लिए अंतिम तिथि 31 अक्टूबर है. अलग-अलग श्रेणी के आयकरदाताओं को अलग-अलग इनकम टैक्स रिटर्न भरना होता है.

क्या आप भी बनना चाहते हैं करोड़पति? नए IPO निवेश के बारे में जानकारी के लिए ➤ Whastapp Channel से जुड़ें!

ज्यादात्तर आयकरदाताओं द्वारा ITR Form-1 भरा जाता है, जिसे ‘सहज‘ कहा जाता है. अगर किसी व्यक्ति की आय सैलरी, घर किराये या अन्य स्रोतों से सालाना इनकम 50 लाख तक है तो वे सहज फॉर्म के द्वारा आईटीआर भर सकते हैं.

आइये अब जानते हैं, ITR Form-1 (SAHAJ) भरने के स्टेप्स, जिनकी मदद से आप घर बैठे इसे भर सकते हैं.

ITR-1 ‘सहज’ फॉर्म कैसे भरें

स्टेप 1: सबसे पहले ई-फाइलिंग पोर्टल पर जाएं, और अपने USER ID (PAN CARD OR AADHAR CARD) और Password के साथ लॉगइन करें (पोर्टल लिंक नीचे मिल जायेगा)

स्टेप 2: अपने डैशबोर्ड स्क्रीन में,e-File पर जाएं >अब Income Tax Returns पर जाएं > ‘File Income Tax Return‘ पर क्लिक करें.

इसे भी पढ़े : PF अकाउंट में कितना पैसा है, कैसे चेक करें?

स्टेप 3: Assessment year चुनें, जैसे कि अब 2024-25 के लिए भर रहे हैं,

स्टेप 4: फाइलिंग का तरीका चुनें, जैसे Online, और ‘Continue‘ पर क्लिक करें.

income tax return itr file sahaj आयकर रिटर्न्स

(यदि आप पहले से ही इनकम टैक्स रिटर्न भर चुके और इसका सबमिशन ‘Pending‘ है तो ‘Resume Filing पर क्लिक करें. यदि आप पहले आयकर रिटर्न भर रहे थे, लेकिन बीच में कुछ समस्या हो गई, अधूरी रह गयी या आप किसी जानकारी को परिवर्तित करना चाहते हैं और फिर से रिटर्न भरना चाहते हैं तो ‘Start New Filing‘ पर क्लिक करें)

स्टेप 5: जो भी आपके लिए सही है, उस का चुनाव करें, नई फाइल के लिए Start New Filing कर आगे बढ़ें

स्टेप 6: अब अगले पेज पर Individual चुनें और ‘Continue‘ पर क्लिक करें.

अब आपके पास इनकम टैक्स रिटर्न का प्रकार चुनने के लिए दो विकल्प हैं:

  • अगर आपको कौन सा ITR फाइल करना है, इसे लेकर असमंझस में हो, तो ‘Help me decide which ITR Form to file‘ में Proceed पर क्लिक कर आगे बढ़ें.
  • अगर आप पूरी तरह से आश्वस्त हैं कि कौन सा ITR File भरना करना है. तो ‘I know which ITR Form I need to file’, को चुनें। ड्रॉपडाउन से अपने लिए लागू आयकर रिटर्न फार्मेट चुनें और ‘ITR के साथ आगे बढ़ें’ पर क्लिक करें।

(अगर आप नहीं जानते हैं कि कौनसा आईटीआर फॉर्म मेरे लिए सही है तो यहाँ जानें : कौनसा आईटीआर फॉर्म आपके लिए सही है)

स्टेप 7: जब आप अपनी आय पर लागू उचित आईटीआर फॉर्म चुन लेते हैं तो ड्राप-डाउन मेनू से उसे सेलेक्ट करें और ‘Proceed With ITR ‘ पर क्लिक कर आगे बढ़ें

अब अगले पेज पर आपको सभी आवश्यक डॉक्यूमेंट्स मिलेंगे, उनकी सूची बना लें और ‘Let’sGet Started‘ पर क्लिक करें.

स्टेप 8: ‘Let’sGet Started‘ पर क्लिक करने के बाद यहां कुछ सवाल आएंगे, जो सवाल आप पर लागू हैं उसके चेकबॉक्स को चुनें और ‘Continue‘ पर क्लिक करें।

(समझने के लिए हिंदी सवाल यहाँ दिखाया जा रहा है)

ITR Form SAHAJ Sugam income tax return form आयकर रिटर्न

स्टेप 9: अगर आपने पिछले वर्ष आईटीआर भरी है तो उसके आंकड़े दिखाए जायेंगे, अपने पहले के भरे आंकड़े देखें और जरूरत हो तो उनमें बदलाव करें. बचे हुए/अतिरिक्त आंकड़े भरें [अगर जरूरत हो तो]. प्रत्येक सेक्शन के अंत में ‘Confirm‘ पर क्लिक करें।

स्टेप 10: अपनी आय और कटौती का ब्योरा अलग-अलग सेक्शन में भरें, फार्मेंट के सभी सेक्शन को भरने और पूरा करने के बाद, आगे बढ़ें पर क्लिक करें.

  • स्टेप 10a: अगर टैक्स देने या tax liability का मामला है तो, आपके दिए गए ब्योरे के आधार पर टैक्स-कैलकुलेशन का संक्षिप्त विवरण दिखाया जाएगा. अगर कैलकुलेशन के आधार पर आपका tax liability बनता है, तो आपको पेज के सबसे नीचे ‘pay now‘ और ‘pay later‘ का विकल्प दिखेगा।
  • स्टेप 10b: अगर आप पर कोई भी tax liability नहीं बनता है [न मांग और न ही रिफंड] या आप रिफंड के हकदार हैं, तो टैक्स चुकाने के बाद, ‘preview return‘ पर क्लिक करें। अगर आप पर कोई भी tax liability नहीं है या टैक्स-कैलकुलेशन के आधार पर कोई refund है, तो आपको ‘Submit Preview and Return‘ पेज पर वापस ले जाया जाएगा।

इसे भी पढ़ें : इनकम टैक्स रिफंड का स्टेटस कैसे चेक करें

Telegram

स्टेप 11: ‘Submit Preview and Return’ पेज पर ‘स्थान’ वाली जगह को भरे, Declaration चेकबॉक्स पर क्लिक करें और ‘proceed to validation‘ पर क्लिक करें।

स्टेप 12: एक बार वेरिफाई हो जाने के बाद, प्रिव्यू देखें और ‘submit return‘ पेज पर, ‘Proceed to Verify‘ पर क्लिक करें. (अगर आपके रिटर्न में कोई गलतियां दिख रही है, तो आपको वापस जाकर फार्म में सभी गलतियों को ठीक कर लेना है.

अगर फॉर्म में कोई गलती नहीं है, तो अपने रिटर्न के ई-वेरिफिकेशन के लिए ‘Proceed to Verify‘ पर क्लिक कर सकते हैं)

स्टेप 13: ‘complete verification‘ पेज पर, अपना पसंदीदा विकल्प चुनें और ‘continue‘ पर क्लिक करें. रिटर्न को verify और e-verification करना अनिवार्य है.

स्टेप 14: ई-वेरिफाई पेज पर जिस विकल्प का इस्तेमाल कर आप e-verification करना चाहते हैं, उसे चुनें और ‘continue‘ पर क्लिक करें.

एक बार जब आप ITR को e-verify करा लेते हैं, तो form के सफलतापूर्व भरे जाने की सूचना स्क्रीन पर दिखाई देती है. इसके साथ आपको Transaction ID और Acknowledgment Number भी स्क्रीन दिखता है, जिसकी मदद से भविष्य में आप अपने ITR Form का स्टेटस देख सकते हैं. e-Filing पोर्टल पर आपका जो मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी रजिस्टर्ड होगा, उस पर भी फार्म भरे जाने का सन्देश प्राप्त हो जायेगा.

आप इनकम टैक्स रिटर्न पोर्टल पर जानें के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें

आईटीआर पोर्टल पर जाएंक्लिक करें
ब्लॉग होम पेजक्लिक करें

इन्हें भी पढ़ें : –

आईटीआर भरने से जुड़े कुछ क्विक क्वेश्चन्स

  1. क्या मैं अपना ITR खुद फाइल कर सकता हूं?

    आयकरदाता ITR 1 और ITR 4 ऑनलाइन भर सकते हैं

  2. क्या ITR File भरना फ्री है?

    अगर आप इनकम टैक्स रिटर्न पोर्टल पर जाकर खुद भरते हैं तो ये फ्री है, अगर आप किसी कंपनी या CA से अपने लिए आईटीआर भरवाते हैं तो वे अपनी फीस चार्ज करते हैं.

  3. AY 2024-25 के लिए ITR फाइल करने की आखिरी तारीख क्या है?

    सैलरी श्रेणी या आम आदमी के लिए आयकर रिटर्न फॉर्म भरने की अंतिम तिथि 31 जुलाई है. जो बिजनेस ऑडिट के साथ ITR भरने वाले हैं, उनके लिए अंतिम तिथि 31 अक्टूबर है. अलग-अलग श्रेणी के आयकरदाताओं को अलग-अलग इनकम टैक्स रिटर्न भरना होता है.

  4. इनकम टैक्स रिटर्न भरने की अंतिम तिथि क्या है?

     31 जुलाई 2023

  5. आयकर रिटर्न क्यों फाइल करना पड़ता?

    ITR Form एक आयकरदाता को एक वित्तीय वर्ष में विभाग को अपनी इनकम और टैक्सेज का भुगतान करने की रिपोर्ट करने में सक्षम बनाता है. यदि आपकी आय मूल छूट सीमा से अधिक है तो आईटीआर दाखिल करना अनिवार्य हो जाता है. अन्यथा आपको आयकर विभाग से नोटिस मिल सकता है.

How good was this post?

Make it better by giving 5 stars

Average rating 5 / 5. Total rating : 1

Be the first to rate

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Tags:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *