छोड़कर सामग्री पर जाएँ

क्रिप्टो घोटाले (स्कैम) | क्रिप्टोकरेंसी फ्रॉड को कैसे पहचानें? | Crypto Scams in Hindi

0
(0)

क्रिप्टोकरेंसी धोखाधड़ी(Cryptocurrency Scams) : आपको कभी न कभी ईमेल, टेक्स्ट मैसेज या whatsapp पर ऐसे संदेश ज़रूर प्राप्त हुए होंगे, जिनमें आपको किसी स्कीम या लॉटरी का विजेता बताया जाता है और आपको लाखों देने के वादे किये जाते हैं, जिनमें हमें कभी हिस्सा लिया भी नहीं होता है.

जब भी ऐसे संदेश मोबाइल पर प्राप्त होते हैं तो हम तुरंत समझ जाते हैं कि फ्रॉड है या सच. लेकिन क्रिप्टोकरेंसी में भी आपको येही लगता है क्या कि आप किसी भी फ्रॉड को आसानी से पहचान सकते हैं. आज हम यहाँ सबकुछ जानेंगे और समझेंगे.

क्रिप्टो फ्रॉड(धोखाधड़ी) बहुत बढ़ रही है | Crypto Scams in Hindi

समय के साथ-साथ Cryptocurrency की कीमतों में भी बढ़ोतरी हो रही है. जिस तरह से क्रिप्टो ने लोगों और निवेशक संस्थाओं का ध्यान आकर्षित किया, वे सभी धोखाधड़ी करने वाले लोगों के लक्ष्य बन गये हैं. ये क्रिप्टो फ्रॉड करने वाले लोग क्रिप्टोकरेंसी में इंटरेस्ट रखने वाले लोगों से धोखाधड़ी करके आसानी से पैसे कमाना चाहते हैं और अमीर बनने के सपने देखते हैं.

सभी फ्रॉड करने वाले विश्वसनीय वादों में उलझाते हैं और अपने फायदे के लिए इन्टरनेट के द्वारा क्रिप्टो के द्वारा धोखाधड़ी को अंजाम देते हैं. इनके द्वारा किये जाने वाले वादे सच्चे और लुभावने लगते हैं, जिनके चक्कर में हमारे फंसने की संभावना बढ़ जाती है. ये सब इसलिए होता है क्योंकि वर्तमान में लोगों को क्रिप्टोकरेंसी के बारे में जानकारी का अभाव है और हम समझ नहीं पाते हैं कि क्या सच है और क्या धोखा है.

आप क्रिप्टोकरेंसी की और जाने से पहले ये जरुर समझें कि क्रिप्टोकरेंसी क्या है? , क्रिप्टोकरेंसी कैसे काम करती है और इसके भुगतान के तरीके क्या हैं. अगर आप अपनी जमा पूंजी को सेफ रखना चाहते हैं तो क्रिप्टोकरेंसी फ्रॉड और सही क्रिप्टो ट्रेडिंग अकाउंट की पहचान करना सीखें.

इसे भी पढ़ें :- विंजो एप पर गेम खेलकर पैसे कमाएं

क्रिप्टो घोटाले (स्कैम) | क्रिप्टोकरेंसी फ्रॉड को कैसे पहचानें? | Crypto Scams in Hindi
क्रिप्टोकरेंसी फ्रॉड

कुछ प्रसिद्ध क्रिप्टो फ्रॉड

यहाँ हम कुछ प्रसिद्ध क्रिप्टो फ्रॉड के बारे में बतायेंगे जिनकी मदद से आप फ्रॉड को समझ सकते हैं और अपना बचाव कर सकते हैं.

धोखेबाजी घोटाले (स्कैम) | Imposter Scams Crypto Fraud

क्रिप्टो फ्रॉड या सभी अन्य फ्रॉड अक्सर सरकारी अधिकारियों, संस्याथाओं और जाने-माने व्यक्तियों के नकली अवतार बनकर किए जाते हैं. वर्तमान में, रिपोर्ट किए गए फ्रॉड नुकसान के लगभग 14% हिस्से के लिए क्रिप्टोकरेंसी जिम्मेदार हैं. इनमें से अधिकांश घोटाले(शेष लगभग 86%) कानूनी नकदी का उपयोग करके किये जाते हैं. जिस स्पीड क्रिप्टो एसेट बढ़ रहा है, भविष्य में इस अनुपात में चौकाने वाले बदलाव देखने को मिल सकते हैं. यदि ऐसा ही चलता रहा तो निःसंदेह वो दिन दूर नहीं जब डिजिटल करेंसी के द्वारा किया गया फ्रॉड नुकसान काफी बढ़ जाएगा. 

FTC आंकड़ो के अनुसार, क्रिप्टो फ्रॉड के मामलों में वर्ष 2020 से निरंतर बढ़ोतरी हो रही है, जिसमें 7000 से ज्यादा क्रिप्टो कस्टमर्स ने कुल 80 मिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक करेंसी को फ्रॉड में खोया है.

चर्चित कंपनीज और लोगों के नकली नाम से किये गये फ्रॉड पर लोग जल्दी विश्वास करते हैं, और धोखेबाज इस बात का फायदा उठाते हैं और लोगों को चुना लगते हैं. कई यूजर्स ने बताया तो ये भी बताया है कि, उन्होंने किसी चर्चित या सेलेब्रिटी कि वॉलेट समझकर क्रिप्टो भेजें हैं और फ्रॉड के शिकार हुए हैं. उदाहरण के लिए, कोरोना में सोनू सूद के नकलची बनकर लोगों ने पैसे ऐंठे हैं.

कई क्रिप्टो फ्रॉडबाज किसी चर्चित क्रिप्टोकरेंसी वॉलेट प्लेटफार्म के नाम से सोशल अकाउंट या ग्रुप बनाकर घोटाले करते हैं. इंटरनेटकि दुनिया में ऐसे नकली सोशल अकाउंट की बहुत भरमार है. कृपया किसी भी सोशल मीडिया पर दिए गए ऑफर पर विश्वास न करें, खासकर तब, जब काफी आकर्षक ऑफर हो ,आपको नामुमकिन लगता हो.

फ्रॉड या स्कैम करने वाले अकाउंट का पता लगाने का सबसे बेहतर तरीका यह है कि आपको जिस ऑफर का वादा किया जा रहा है उसकी ऑफिसियल साइट या न्यूज़ पर जांच करें. यदि आपको कोई क्रिप्टोकरेंसी ऑफर बहुत अधिक लुभावना या आकर्षक लग रहा है लेकिन वास्तव में होने में संशय है तो तो सावधान रहें. ये नामुमकिन तभी लगते हैं जब ये मुमकिन नहीं होते हैं.

इसे भी पढ़ें :- इन आदतों को अपनाकर बनें अमीर

क्लोन वेबसाइट्स क्रिप्टो फ्रॉड | Clone websites Crypto Fraud

स्कैमर्स अक्सर फेक वेबसाइट की मदद से धोखाधड़ी करते हैं. अनजाने में लोग ऐसी फेक वेबसाइट पर चले जाते हैं जहां क्रिप्टोकरेंसी में इन्वेस्ट करने या माइनिंग करने के प्रलोभन दिए जाते हैं. ऐसी फेक वेबसाइट को फ्रॉडबाज लोग बेहतरीन तरीके से डिज़ाइन करते हैं जिससे आप इसे लोग इन फेक वेबसाइट को ऑफिसियल समझ लेते हैं और अपने क्रिप्टो को आसानी से और बिना किसी झिझक के इनपर ट्रान्सफर कर देते हैं.

ज्यादातर, ऐसी फेक वेबसाइटों में इन्वेस्ट के बहुत से लेवल होते हैं, इन्वेस्ट जितना ज्यादा होता है, उतना ही ज्यादा लुभावना ऑफर पेश किया जाता है. इन वेबसाइटों को विश्वसनीय दर्शाने के लिए नकली टेस्टीमोनियल और क्रिप्टोकरेंसी अफवाह का प्रयोग किया जाता है, लेकिन यूजर्स को यह समझने की आवश्यकता है कि अविश्वसनीय गारंटी देने वाले रिटर्न के ऐसे बड़े लुभावने ऑफर कभी सच्चे नहीं होते. ऐसी वेबसाइट आपको यह विश्वास भी दिला देती हैं कि आपकी इन्वेस्ट की गयी पूंजी तेजी से बढ़ रही है. लेकिन जब आप अपने कमाए मुनाफे को निकालने का कोशिश करते हैं, तो आपको और भी अधिक क्रिप्टो ट्रांसफर करने के लिए बोला जाएगा, और अंत में आपको कुछ भी नहीं मिलेगा और आप बहुत सी पूंजी अपनी खो चुके होंगे.

ऐसे बहुत से संकेत हैं जिससे हमें मालूम हो सकता है कि हम जिस वेबसाइट पर काम कर रहे हैं वह फेक है या वैध है. उदाहरण के लिए, यदि URL बार में कोई लॉक-आइकन नहीं है यानि सिक्योर सिंबल नहीं है, तो यह एक संकेत है कि यह वेबसाइट असुरक्षित है. यदि आपको भुगतान करते समय एक साइट से दूसरी साइट पर रिडायरेक्ट किया जा रहा है, तो यह भी एक फेक वेबसाइट का संकेत है. रिडायरेक्ट लिंक एक ऑफिसियल साइट की तरह दिख सकते हैं, हालाँकि, URL की गहनता से देखने पर पता चलेगा कि नकली URL में ऑफिसियल साइट के“o” अक्षर के बजाए फेक साइट में शून्य लिखा हुआ है. इसलिए आप अपने ब्राउज़र में सही URL दर्ज करके दोबारा इसको जाँच सकते हैं.

रोमांस क्रिप्टो घोटाले (स्कैम) | Romance Crypto scams

रोमांस फ्रॉड वह होता है जिसमें लोगों को क्रिप्टोकरेंसी इन्वेस्ट की और लुभाने के लिए ऑनलाइन डेटिंग का इस्तेमाल किया जाता है. स्कैमर्स डेटिंग ऐप और सोशल मीडिया के द्वारा लोगों से संपर्क करते हैं. फिर लोगों का विश्वास जीतने के लिए वे उनके लिए एक संभावित लव रिलेशन का ऑफर पेश करते हैं और उन्हें यह यकीं कराते हैं कि उनका रिलेशन सच्चा है. व्यक्ति का विश्वास प्राप्त करने के बाद, फ्रॉडबाज क्रिप्टो विशेषज्ञों के रूप में उन्हें सलाह देते हैं और पीड़ित को इन्वेस्ट करने के लिए उन्हें क्रिप्टोकरेंसी भेजकर संतुष्ट करते हैं. एक बार जब पीड़ित इन्वेस्ट करता है तो फ्रॉड लोग पीड़ित को अपने अकाउंट से मामूली लाभ निकालने की अनुमति दे देता है.

एक बार पूंजी निकालने के बाद फ्रॉडबाज पीड़ित को अधिक पूंजी इन्वेस्ट करने के लिए बोलता है और पीड़ित से “जल्दी से कार्य करने” का आग्रह करता है. जब पीड़ित दुबारा पैसे निकालने की कोशिश करता है तब फ्रॉडबाज कई प्रकार के कारन बता देता है कि धनराशि क्यों नहीं निकल रही, और जब पीड़ित और पूंजी इन्वेस्ट या ट्रान्सफर करना रोक देता है तो यह वर्चुअल लव रिलेशन ख़त्म हो जाता है

FTC के अनुसार, बहुत से लोगों ने बताया है कि उन्होंने नासमझी से तब तक ऐसे रिलेशन को लंम्बे समय का समझा जब तक कि उनके प्रेमी ने क्रिप्टोकरेंसी इन्वेस्टमेंट के बारे में बातचीत शुरू नहीं की, जिसमें उन्होंने उसके कहने पर इन्वेस्ट किया. अक्टूबर 2020 से, क्रिप्टोकरेंसी में हुए नुकसान का लगभग 20 प्रतिशत हिस्सा रोमांस फ्रॉड के द्वारा हुआ है, इनमें से कई शिकायत रिपोर्ट ऐसे व्यक्तियों ने की हैं जिन्हें ये लग रहा था कि वे इन्वेस्ट कर रहे हैं और भविष्य में अच्छा पैसा आएगा.

निष्कर्ष :-

फ़िशिंग फ्रॉड, ज्यादा लाभ देने वाले स्कैम, रोमांस फ्रॉड, रग पुल्स, पंप और डंप – इसे आप जो चाहें कहें; क्रिप्टो फ्रॉड हर जगह हैं. यदि आप सावधान नहीं हैं, तो आप वह सब कुछ खो देंगे हैं जिसे कमाने के लिए आपने इतनी मेहनत की थी. 

क्रिप्टोकरेंसी में निवेश शुरू करने से पहले, सुनिश्चित करें कि आप सावधान हैं और अगर कुछ सही नहीं लगता है या कुछ अलग लगता है तो आप सतर्क हो जाएं और उसकी जाँच करले. जो ऑफर मुमकिन नहीं हैं उनसे दूर रहें और अपनी जमा पूंजी की रक्षा करें.

Disclaimer: ‘KAISE INDIA‘ ब्लॉग सिर्फ शैक्षिक उद्देश्यों के लिए जानकारी उपलब्ध करवाता है, ये कभी भी क्रिप्टोकरेंसी खरीदने और बेचने के लिए सलाह प्रदान नहीं करता है.

इन्हें भी पढ़ें :-

FAQs About Crypto Scams in Hindi

  1. क्रिप्टोक्यूरेंसी फ्रॉड कैसे काम करते हैं?

    स्कैमर्स लोगों को क्रिप्टोकरेंसी में इन्वेस्ट करने के लिए लुभाने वाले असंभव ऑफर पेश करते हैं, और लोग लालच में आकर निवेश कर देते हैं तथा अपनी पूंजी खो देते हैं. कभी भी उन ऑफर्स पर भरोसा ना करें जो आपको मुमकिन नहीं लगते हैं, अगर आपको मुमकिन नहीं लगते हैं तो जरुर कोई आपको फंसाना चाहता है.

  2. क्रिप्टो स्कैम्स क्या हैं?

    क्रिप्टो फ्रॉड का उद्देश्य अक्सर सुरक्षा कोड जैसी निजी जानकारी हासिल करना होता है या किसी अनजान व्यक्ति को एक समझौता किए गए डिजिटल वॉलेट में क्रिप्टोकरेंसी भेजने के लिए धोखा देना होता है. ऐसा करके वे आपकी पूंजी क्रिप्टो के माध्यम से हड़प लेते हैं.

  3. क्रिप्टोक्यूरेंसी फ्रॉड किसके माध्यम से होते हैं?

    क्रिप्टोकरेंसी फ्रॉड को अंजाम कई तरह से दिया जाता है. जैसे: नकली एप्स, फेक वेबसाइट, झूठे ऑफर, लव रिलेशन द्वारा, सोशल मीडिया, सस्ते क्रिप्टो करेंसी का लालच, ब्लैकमेल, चर्चित व्यक्ति के नाम से, सेलेब्रिटी फेक अकाउंट, हैक अकाउंट आदि कई तरह से आपके साथ क्रिप्टो घोटाले हो सकते हैं.

😊 यह पोस्ट कितनी अच्छी थी?

5 Star देकर इसे बेहतर बनाएं ⬇️

Average rating 0 / 5. Total rating : 0

रेटिंग देने वाले पहले व्यक्ति बनें

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.