Skip to content

क्रेडिट कार्ड: बैंकों और एनबीएफसी के लिए मोटी कमाई का जरिया

0
(0)

क्रेडिट कार्ड, जिसे आमतौर पर “क्रेडिट कार्ड” के रूप में जाना जाता है, आजकल एक बड़ा और प्रभावी वित्तीय उपकरण बन गया है। इसके माध्यम से ग्राहक बिना किसी सीमा के खरीदारी कर सकते हैं और अपने आवश्यकतानुसार वित्तीय लेन-देन कर सकते हैं। लेकिन यह उपकरण सिर्फ ग्राहकों के लिए ही नहीं है, बल्कि इसके माध्यम से बैंकों और एनबीएफसी को भी मोटी कमाई का अवसर प्राप्त होता है। चलिए जानते हैं कि क्रेडिट कार्ड इश्यू करने वाले बैंकों और एनबीएफसी को इससे कैसे लाभ होता है।

क्या आप भी बनना चाहते हैं करोड़पति? नए IPO निवेश के बारे में जानकारी के लिए ➤ Whastapp Channel से जुड़ें!

क्रेडिट कार्ड से बैंकों और एनबीएफसी को कैसे लाभ होता है:

1. सालाना फीस:

कई बैंक अपने क्रेडिट कार्ड पर सालाना फीस वसूलते हैं। यह फीस उन्हें हर साल ग्राहकों से वसूली जाती है। इसके बावजूद, यदि ग्राहक ने उस वर्ष में निश्चित राशि से अधिक खर्च किया है, तो सालाना फीस को माफ कर दिया जाता है। ऐसा करके, बैंक ग्राहकों को अधिक से अधिक क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करने के लिए प्रोत्साहित करता है।

इसे भी पढ़े: क्रेडिट कार्ड के बारे में जानें सबकुछ

2. कैश एडवान्स फीस:

जब कोई ग्राहक अपने क्रेडिट कार्ड का उपयोग एटीएम से कैश निकालने के लिए करता है, तो क्रेडिट कार्ड कंपनियां इसके लिए कैश एडवान्स फीस चार्ज करती हैं। यह फीस आमतौर पर निकाली गई राशि का एक निश्चित प्रतिशत होता है। इसके कारण, अधिकांश ग्राहक इस विकल्प का उपयोग नहीं करते हैं।

3. बैलेंस ट्रांसफर फीस:

जब कोई ग्राहक एक क्रेडिट कार्ड के बकाया राशि को दूसरे क्रेडिट कार्ड पर ट्रांसफर करता है, तो क्रेडिट कार्ड कंपनियां इसके लिए बैलेंस ट्रांसफर फीस वसूलती हैं। इस फीस का निश्चित प्रतिशत होता है जो क्रेडिट राशि के अनुसार विभिन्न होता है।

4. लेट फीस:

कई बार ग्राहक क्रेडिट कार्ड का न्यूनतम बिल समय पर नहीं चुका पाते हैं। ऐसे में, क्रेडिट कार्ड कंपनियां लेट फीस लगाती हैं। इसके अतिरिक्त, लेट फीस के चलते ग्राहक के क्रेडिट स्कोर पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

इसे भी पढ़े: फ्री में अपने क्रेडिट स्कोर को चेक करें

5. फाइनेंस चार्ज:

यदि ग्राहक ने क्रेडिट कार्ड के मिनिमम चार्ज को भी नहीं चुकाया है, तो क्रेडिट कार्ड कंपनियां उस राशि पर ब्याज वसूलती हैं। इसे फाइनेंस चार्ज कहा जाता है। इसके जरिए भी बैंक और क्रेडिट कार्ड कंपनियां अधिक लाभ कमा सकती हैं।

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते समय इन बातों का ध्यान रखें:

  • सालाना फीस और लेनदेन शुल्क कम वाले क्रेडिट कार्ड का चुनाव करें।
  • समय पर बिल का भुगतान करें।
  • अपनी क्रेडिट सीमा से अधिक खर्च न करें।
  • एटीएम से क्रेडिट कार्ड से पैसे निकालने से बचें।
  • ब्याज दरों की तुलना करें।

क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते समय थोड़ी सावधानी बरतकर आप बैंकों और एनबीएफसी द्वारा वसूले जाने वाले शुल्कों से बच सकते हैं।

इसे भी पढ़े: फ्लिपकार्ट पे लेटर से उधार में सामान खरीदें

यह भी ध्यान रखें:

  • क्रेडिट कार्ड ऋण का एक रूप है।
  • क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल ज़िम्मेदारी से करें।
  • यदि आप कर्ज चुकाने में असमर्थ हैं तो क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल न करें।

क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने के फायदे:

1. सुविधा:

क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके खरीदारी करना बहुत सुविधाजनक है। आपको नकदी या चेक ले जाने की आवश्यकता नहीं है, और आप बस अपने कार्ड को स्वाइप करके भुगतान कर सकते हैं।

2. सुरक्षा:

क्रेडिट कार्ड नकदी से अधिक सुरक्षित होते हैं। यदि आपका कार्ड खो जाता है या चोरी हो जाता है, तो आप इसे तुरंत रद्द कर सकते हैं और आपको पैसे वापस मिल सकते हैं।

Telegram

3. पुरस्कार और लाभ:

कई क्रेडिट कार्ड पुरस्कार और लाभ प्रदान करते हैं, जैसे कि कैशबैक, एयरलाइन मील, और होटल में छूट।

4. क्रेडिट स्कोर बनाना:

क्रेडिट कार्ड का जिम्मेदारी से उपयोग करके आप अपना क्रेडिट स्कोर बना सकते हैं। यह आपके लिए भविष्य में ऋण प्राप्त करना आसान बना सकता है।

5. आपातकालीन खर्चों को पूरा करने का विकल्प:

क्रेडिट कार्ड आपातकालीन खर्चों को पूरा करने का एक अच्छा विकल्प हो सकता है। यदि आपके पास पर्याप्त नकदी नहीं है, तो आप क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके खर्च कर सकते हैं और बाद में भुगतान कर सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने के नुकसान:

1. ब्याज:

यदि आप क्रेडिट कार्ड बकाया राशि का भुगतान समय पर नहीं करते हैं, तो आपको ब्याज का भुगतान करना होगा। ब्याज दर आमतौर पर 20% से 30% तक होती है।

2. शुल्क:

क्रेडिट कार्ड से जुड़े कई शुल्क होते हैं, जैसे कि लेनदेन शुल्क, कैश एडवांस शुल्क, और लेट पेमेंट शुल्क।

3. ऋण में डूबने का खतरा:

क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने से आपको ऋण में डूबने का खतरा हो सकता है। यदि आप अपनी क्रेडिट सीमा से अधिक खर्च करते हैं और समय पर भुगतान नहीं करते हैं, तो आप ऋण में डूब सकते हैं।

4. धोखाधड़ी का खतरा:

क्रेडिट कार्ड का उपयोग करते समय धोखाधड़ी का खतरा होता है। आपको अपने कार्ड की जानकारी को सुरक्षित रखना चाहिए और धोखाधड़ी से बचने के लिए सावधानी बरतनी चाहिए।

5. खर्च करने की आदत:

क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने से आपको अधिक खर्च करने की आदत हो सकती है। आपको अपनी खर्च करने की आदतों पर ध्यान देना चाहिए और अपनी बजट सीमा के अंदर रहना चाहिए।

इस तरह, क्रेडिट कार्ड इश्यू करने वाले बैंकों और एनबीएफसी को विभिन्न तरीकों से लाभ होता है। यह न केवल ग्राहकों को वित्तीय स्वतंत्रता प्रदान करता है, बल्कि उन्हें भी मोटा लाभ प्राप्त होता है। इसलिए, अगर आप भी क्रेडिट कार्ड का उपयोग करने का विचार कर रहे हैं, तो सावधानीपूर्वक और समझदारी से इसका उपयोग करें ताकि आपका वित्तीय स्थिति हमेशा सुरक्षित रहे।

How good was this post?

Make it better by giving 5 stars

Average rating 0 / 5. Total rating : 0

Be the first to rate

We are sorry that this post was not useful for you!

Let us improve this post!

Tell us how we can improve this post?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *